14 दिन पहले लगी ‘आग’ को युवराज सिंह ने अपने अंदाज में बुझाया, देखने वाले थे दंग

Yuvraj Singh hit six sixes to stuart broad on this day, just after 14 days Dimitri Mascarenhas hit him five sixes

जिसका नाम ही युवराज हो, उसके काम करने के अंदाज के बारे में भला क्या कहने. और, बिल्कुल ऐसा ही किया था भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह ने भी. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज का नाम भारतीय क्रिकेट के बड़े मैच विनर्स में शामिल है तो इसकी वजह उनका अपना अंदाज, अपनी स्टाइल ही तो है. फिर चाहे वो स्टाइल उनकी बल्लेबाजी का हो या फिर मैच को खत्म करने का. युवराज सिंह को सब बड़े अच्छे से आता था. पर आप सोच रहे होंगे कि हम ये बातें आज क्यों कर रहे हैं. तो वो इसलिए जनाब क्योंकि आज 19 सितंबर है. 15 साल पहले इसी तारीख को तो युवराज सिंह ने अपने दिल में 14 दिन से जल रही आग को बुझाया था, वो भी उसी अंदाज में जिसके लिए वो जाने जाते हैं.

5 सितंबर को लगी ‘आग’, 19 सितंबर को बुझाई

ये बात दरअसल साल 2007 की है. उस साल 5 सितंबर वो तारीख थी जब युवराज के दिल में वो शोले भड़के थे, जिसकी धधक को उन्होंने 19 सितंबर को शांत किया था. बेशक आज 19 सितंबर है तो बात भी उसी दिन घटी घटना की होनी चाहिए, लेकिन इसे बेहतर तरीके से समझने के लिए फ्लैशबैक में जाना थोड़ा जरूरी है.

युवराज के खिलाफ इंग्लैंड वाले ने जड़े थे 5 छक्के

साल 2007 में T20 वर्ल्ड कप के पहले एडिशन के आगाज से पहले भारतीय टीम राहुल द्रविड़ की कप्तानी में वनडे सीरीज खेलने के इरादे से इंग्लैंड दौरे पर थी. 5 सितंबर 2007 को इस सीरीज का छठा मैच खेला गया. इस मैच में राहुल द्रविड़ ने आखिरी ओवर युवराज सिंह को दिया, जिनके खिलाफ इंग्लैंड के खिलाड़ी दिमित्रि मास्केरेन्हस ने लगातार 5 छक्के मारे. दिमित्रि ने इस मैच में 15 गेंदों पर 36 रन मारे, जिसमें 30 रन सिर्फ उन्होंने युवराज सिंह के ओवर में 5 छक्कों से हासिल किए.

फ्लिंटॉफ ने किया चिंगारी लगाने का काम

दिमित्री से पड़ी इस मार के बाद युवराज सिंह बेचैन से फिरने लगे. उनकी नींदें उड़ी थी. वो मौके के इंतजार में थे. और, वो मौका भी जल्दी ही आया, जब ठीक 14 दिन बाद यानी 19 सितंबर 2007 को बदले की आग में जल रहे युवराज सिंह गेंद नहीं बल्कि हाथ में बल्ला लिए इंग्लैंड के सामने थे. सिर्फ देश और क्रिकेट का फॉर्मेट बदला था, बाकी सब एक जैसा था. यानी स्टेज सेट था और आग लगाने को जिस चिंगारी की जरूरत थी, वो कमी एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने युवराज को छेड़कर पूरी कर दी. ऐसा लग रहा था जैसे सब किसी फिल्म की पहले से लिखी स्क्रिप्ट जैसा हो. बहरहाल, इसके बाद किंग्समीड के मैदान पर जो हुआ वो सदा के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया.

युवराज ने 19 सितंबर को ब्रॉड के खिलाफ मारे 6 छक्के

युवराज सिंह ने 5 सितंबर का बदला 19 सितंबर को लिया. इंग्लैंड के ऑलराउंडर दिमित्री ने क्रिकेट के वनडे फॉर्मेट में उन्हें लगातार 5 छक्के मारे थे. तो युवराज सिंह क्रिकेट के T20 फॉर्मेट में इंग्लैंड के ही तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड की 6 गेंदों पर 6 छक्के जड़ चुके थे. T20 क्रिकेट में वो ऐसा करने वाले आज भी इकलौते बल्लेबाज हैं. इस मैच में युवराज सिंह ने 16 गेंदों पर 58 रन बनाए, जिसमें उन्होंने अपना अर्धशतक सिर्फ 12 गेंदों पर जड़ा, जो कि आज भी एक रिकॉर्ड है.