हर साल एक भारतीय 50 किलो खाना बर्बाद कर रहा, चौंकाते हैं ये आंकड़े


देश में हर साल प्रति व्यक्ति 50 किलो खाना बर्बाद हो जाता है. आंकड़ा इतना ज्यादा है कि ऐसा करने के मामले में भारत दुनिया में दूसरे पायदान पर है. जानिए, खाने की बर्बादी के मामले में देश-दुनिया का क्या हाल है और इस बर्बादी को बचाकर क्या कुछ किया जा सकता है



TV9 Bharatvarsh | Edited By: अंकित गुप्ता



Sep 18, 2022, 9:21 AM IST





देश में हर साल प्रति व्‍यक्‍त‍ि 50 किलो खाना बर्बाद हो जाता है. यह बर्बादी का ग्राफ घट नहीं रहा. आंकड़ा इतना ज्‍यादा है कि ऐसा करने के मामले में भारत दुनिया में दूसरे पायदान पर है. संयुक्‍त राष्‍ट्र की फूड वेस्‍ट इंडेक्‍स रिपोर्ट 2021 कहती है, भारत में जितना भी खाना बर्बाद होता है उसमें 61 फीसदी तो रसोईघर में हो रहा है. जानिए, खाने की बर्बादी के मामले में देश-दुनिया का क्‍या हाल है और इस बर्बादी को बचाकर क्‍या कुछ किया जा सकता है…

आंकड़े बताते हैं कि मुंबई में हर दिन 69 लाख किलो खाद्य सामग्री फेंकी जा रही है. इसे बचा लिया जाए तो हर दिन आधी मुंबई का पेट भरा जा सकता है.

आंकड़े बताते हैं कि मुंबई में हर दिन 69 लाख किलो खाद्य सामग्री फेंकी जा रही है. इसे बचा लिया जाए तो हर दिन आधी मुंबई का पेट भरा जा सकता है.

खाने की बर्बादी का असर सिर्फ भुखमरी ही नहीं, पर्यावरण के लिए बढ़ते खतरे के रूप में भी दिखाई दे रहा है. एक अन्‍य रिपोर्ट के मुताबिक, 33 फीसदी ग्रीन हाउस गैसों के लिए गलत फूड चेन जिम्‍मेदार है.

खाने की बर्बादी का असर सिर्फ भुखमरी ही नहीं, पर्यावरण के लिए बढ़ते खतरे के रूप में भी दिखाई दे रहा है. एक अन्‍य रिपोर्ट के मुताबिक, 33 फीसदी ग्रीन हाउस गैसों के लिए गलत फूड चेन जिम्‍मेदार है.

खाना बर्बाद करने में पहले पायदान पर चीन है. यहां हर साल 9.1 करोड़ टन खाना बर्बाद किया जा रहा है.

खाना बर्बाद करने में पहले पायदान पर चीन है. यहां हर साल 9.1 करोड़ टन खाना बर्बाद किया जा रहा है.

आरएमआईटी यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर साइमन लॉकरे कहते हैं, फूड वेस्‍ट का इस्‍तेमाल खाद बनाने के लिए भी हो सकता है. इससे पैदवार में इजाफा हो सकता है.

आरएमआईटी यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर साइमन लॉकरे कहते हैं, फूड वेस्‍ट का इस्‍तेमाल खाद बनाने के लिए भी हो सकता है. इससे पैदवार में इजाफा हो सकता है.






Most Read Stories



Leave a Reply

Your email address will not be published.