हरभजन सिंह vs इरफान पठान की टीमों के बीच मैच में 8 मिनट का अंधेरा क्यों हुआ?

लखनऊ के एकाना स्टेडियम में लेजेंड्स लीग का क्रिकेट मैच चल रहा था जहां 8 मिनट के लिए बत्ती गुल हो गई

एकाना स्टेडियम अंधेरे में डूबा

लखनऊ के एकाना स्टेडियम में रविवार को लेजेंड्स लीग क्रिकेट का दूसरा मुकाबला खेला गया. इस मैच में इरफान पठान की कप्तानी वाली भीलवाड़ा किंग और हरभजन सिंह की मनिपाल टाइगर का आमना-सामना था. कई दिग्गज खिलाड़ी इस मुकाबले में हिस्सा ले रहे थे. उत्तर प्रदेश के दूसरे सबसे बड़े मैदान पर हो रहे मुकाबले में अचानक अंधेरा हो गया और 8 मिनट तक पूरा मैदान अंधेरे में ही डूबा रहा.

8 मिनट के लिए गुल रही लाइट

मनिपाल टाइगर की टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरी थी. उनकी शुरुआत खराब रही. हरभजन सिंह की टीम की बल्लेबाजी चल ही रही थी कि अचानक एक फ्लड लाइट में खराबी के कारण मैदान पर अंधेरा छा गया. खिलाड़ी और वहां मौजूद दर्शक यह देखकर हैरान थे. इसके बाद स्टेडियम में मौजूद फैंस ने मोबाइल निकाला और उसकी टॉर्च जलाकर उजाला करने की कोशिश की. एक तरह से उन्होंने क्राउड वेव शुरू किया जो कि आमतौर पर बड़े पॉप स्टार्स के कॉन्सर्ट्स में देखा जाता है. 8 मिनट के इंतजार के बाद मैदान पर फिर से लाइट आई और मुकाबला शुरू किया गया. हालांकि इतने बड़े मैदान पर इस तरह की बदइंतजामी देखकर फैंस काफी हैरान थे.

एकाना स्टेडियम उत्तर प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा स्टेडियम

कानपुर के ग्रीन पार्क के बाद उत्तर प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा स्टेडियम एकाना स्टेडियम ही है. इस मैदान की दर्शक क्षमता 50 हजार है. इस मैदान पर कई अंतरराष्ट्रीय मुकाबले भी खेले गए हैं. अगर ऐसी ही स्थिति किसी अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में होती तो बीसीसीआई की जमकर फजीहत हुई होती.

ये भी पढ़ें



इरफान पठान की टीम ने जीता मुकाबला

इरफान पठान और हरभजन सिंह की टीमों के बीच खेला जा रहा यह मुकाबला लीग का दूसरा मुकाबला था. इरफान ने टॉस जीतकर हरभजन की मनिपाल को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया. मनिपाल ने 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 157 रन बनाए. टीम के लिए सबसे ज्यादा मोहम्मद कैफ ने बनाए. उन्होंने 59 गेंद में 73 रन बनाए. वहीं प्रदीप साहू ने 19 गेंद में 30 रन बनाए. जवाब में भीलवाड़ा किंग्स की टीम ने यूसुफ पठान की 28 गेंदों में 44 रन की तूफानी पारी की बदौलत 19.4 ओवर में ही लक्ष्य को हासिल कर लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.