शादी में द्वारचार के दौरान बालकनी गिरने से दो की मौत, 33 घायल

Marriage

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के सरोजनीनगर थाना क्षेत्र के बिजनौर के नु्र्दी खेड़ा गांव में गुरुवार देर रात शादी में द्वारचार के दौरान छज्जा गिरने से एक लड़की समेत दो लोगों की मौत हो गई. जबकि इसमें दुर्घटना में 33 लोग घायल हो गए. पुलिस के मुताबिक घायलों में चार की हालत गंभीर है. सभी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है. जानकारी के मुताबिक महिलाएं दूल्हे को देखने के लिए बालकनी पर खड़ी हो गईं और इसी दौरान अचानक से छज्जा नीचे गिर गया. घायलों में ज्यादातर महिलाएं और लड़कियां बताई जा रही हैं. बताया जा रहा है कि शादी में शामिल होने आए पुरोहित की भी इस दुर्घटना में मौत हो गई है. जबकि एक मृतका युवती लखनऊ के ठाकुरगंज से शादी (Marriage) में शामिल होने पहुंची थी.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक नूरदी खेड़ा निवासी बाबूलाल की बेटी मनीषा की शादी जालिम खेड़ा निवासी विशम्भर के पुत्र विवेक के साथ तय थी और इसी बीच देर रात दूल्हा बारात लेकर पहुंचा. जिसे देखने के लिए बड़ी संख्या में महिलाएं बाबू लाल के घर की बालकनी पर खड़ी हो गईं. भीड़ ज्यादा होने के कारण अचानक से बालकनी नीचे गिर गई और वहां पर खड़ी महिलाएं और लड़कियां नीचे गिर गई और मलबे के नीचे दब गई. वहां पर मौजूद लोगों ने तुरंत ही इस घटना में घायल लोगों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया और जहां से गंभीर रूप से घायल लोगों को लोकबंधु अस्पताल रेफर कर दिया गया.

चार घायलों की स्थिति नाजुक

पुलिस का कहना है कि इस दुर्घटना में चार लोगों की स्थिति काफी खराब है और उनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. पुलिस ने बताया कि 33 लोग घायल हुए हैं और दो लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई थी. बाकी घायलों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है.

पुरोहित और शादी में शामिल होने आई युवती की हुई मौत

पुलिस का कहना है कि इस दुर्घटना में ठाकुरगंज निवासी श्रद्धा व कल्ली पश्चिम निवासी पुरोहित राम किशोर तिवारी की अस्पताल में मौत हो गई. श्रद्धा अपनी नानी के साथ शादी समारोह में शामिल होने आई थी.

Similar Posts