लाइन में तो कई लोग मगर केवल एक शख्स… पीएम पद की चर्चा में स्मृति ईरानी की भविष्यवाणी

Smriti Irani In Patna

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की हाजिर जवाबी का कोई जवाब नहीं है. रैलियां हो या फिर संसद. ये नेता अपने भाषण और तंज से विरोधियों को चुप कराती रही हैं. मौका था पुस्तिक विमोचन का. इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए ईरानी पटना पहुंचीं थी. बिहार वैसे भी इस वक्त राजनीति के केंद्र में हैं. अगस्त में जेडीयू ने बीजेपी से रिश्ते तोड़कर आरजेडी के साथ मिलकर सरकार बना ली थी. इसके बाद से ही बीजेपी के टारगेट में नीतीश कुमार हैं.

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने रविवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की राष्ट्रीय महत्वाकांक्षाओं पर मजाकिया तंज कसा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2024 के लोकसभा चुनावों के बाद सत्ता में लौट आएंगे. भाजपा नेता मोदी @20 पुस्तक पर आधारित पार्टी के एक मीटिंग में शामिल होने के लिए आईं थीं. उनके साथ उनके कैबिनेट सहयोगी गिरिराज सिंह, पूर्व मंत्री रविशंकर प्रसाद और राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी उपस्थित थे.

ईरानी का नीतीश कुमार पर तंज

ईरानी ने नीतीश कुमार को तंज कसते हुए कहा कि इस राज्य में सरकार बनाने के लिए हमेशा दूसरों पर निर्भर रहने वाले लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष कर रहे हैं. ईरानी ने आगे कहा कि मोदी के राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी 2024 में सत्ता चाहते हैं. लेकिन उन्हें इस बात का एहसास नहीं है कि पीएम पद के लिए कई आकांक्षी हैं, लेकिन केवल एक जो प्रधान सेवक बनकर खुश है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधान सेवक सेवा भाव से काम करते हैं और वह 2024 में जनता के पूर्ण आशीर्वाद के साथ लौटेंगे.

बिहार राज्य प्रभारी तावड़े का बयान

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े को हाल ही में बिहार का प्रभारी बनाया गया है. तावड़े ने यहां गांधी मैदान में 2013 के सिलसिलेवार विस्फोटों का जिक्र किया. केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘नरेंद्र भाई की रैली के स्थान पर बम विस्फोट हुए थे. लेकिन विस्फोटों ने लोगों को आश्वस्त कर दिया था कि इस व्यक्ति के नेतृत्व में कुछ ऐसा है जो उसके विरोधियों को किसी भी हद तक जाने के लिए प्रेरित कर रहा है.’

बेगूसराय घटना का हुआ जिक्र

ईरानी ने नीतीश कैबिनेट के मंत्रियों के खिलाफ भ्रष्टाचार और आपराधिक मामलों को गिनाया. उन्होंने बेगूसराय में हाल ही में हुई गोलीबारी की घटना का भी अप्रत्यक्ष रूप से उल्लेख किया, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और कई घायल हो गए थे. भाजपा नेता ने कहा कि नरेंद्र मोदी के राजनीतिक विरोधी ऐसे विवादास्पद आचरण के हैं कि यह पूरे देश में चर्चा का विषय बन जाता है. पटना में यह टिप्पणी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के 2024 के राष्ट्रीय चुनावों से पहले प्रधान मंत्री पद के संभावित उम्मीदवार के रूप में पेश किए जाने के बीच आई है.

डरे हुए हैं सीएम- सुशील मोदी

भाजपा के राज्यसभा सदस्य सुशील मोदी ने नीतीश कुमार के उत्तर प्रदेश के फूलपुर या मिर्जापुर से 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ने की संभावना के बारे में जवाब दिया. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री डरे हुए हैं. उन्होंने कहा कि वे जानते हैं कि उनके लिए बिहार में दो सीटें भी जीतना मुश्किल होगा. उनके सहयोगियों ने उन्हें फूलपुर से चुनाव लड़ने का सुझाव या प्रस्ताव दिया है. फूलपुर हो या मिर्जापुर, वह बुरी तरह हारेंगे.