यूपी के माध्यमिक शिक्षा विभाग में कर सकते हैं ट्रांसफर के लिए आवेदन, जानिए क्या हैं मानक

Teacher

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh)के राजकीय इंटर व हाईस्कूलों के शिक्षकों, प्रधानाचार्यों, प्रवक्ताओं आदि के ट्रांसफर के लिए आज से आवेदन लिए जाएंगे. जानकारी के मुताबिक आवेदन 27 जून की दोपहर तक किए जा सकते हैं और विभाग 30 जून तक तबादला सूची जारी कर सकता है. फिलहाल ट्रांसफर (Transfer) के लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग के विशेष सचिव शंभू कुमार ने आदेश जारी किया है. हालांकि ट्रांसफर को लेकर को शिक्षक संघों को आपत्ति है और उनका कहना है कि ट्रांसफर में कई नियमों को दरकिनार किया गया है. जानकारी के मुताबिक लखनऊ (Lucknow) समेत कई जिलों में ट्रांफसर के लिए अध्यापक आवेदन नहीं कर सकेंगे.

जानकारी के मुताबिक 30 जून तक ट्रांसफर की लिस्ट जारी की जाएगी और जिला, स्कूल, विषयवार रिक्तियां वेबसाइट पर प्रदर्शित की जाएंगी और इसके आधार पर ही ट्रांसफर का आवेदन किया जा सकता है. इसके लिए मानक तय किए गए हैं और इसमें गंभीर बीमारी के लिए मानक नंबर तय किए गए हैं, जिन जिलों में पति-पत्नी की तैनाती है, या फिर तलाकशुदा हैं तो उन्हें ट्रांसफर में वरियता दी जाएगी. माध्यमिक शिक्षा विभाग के माध्यमिक शिक्षा विभाग के राजकीय माध्यमिक विद्यालयों के चयनित, नियुक्त प्रधानाध्यापक, प्रवक्ता माध्यमिक शिक्षा, एससीईआरटी, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड आदि के तहत विभिन्न संस्थानों में कार्यरत होने वाले स्कूलों को भी इस प्रक्रिया में शामिल किया जाएगा.

31 मार्च 2019 के बाद के नियुक्त ही कर सकेंगे ट्रांसफर के लिए आवेदन

जानकारी के मुताबिक 31 मार्च, 2019 के बाद नियुक्त प्रधानाचार्य, प्रधानाध्यापक, उप प्रधानाचार्य और समकक्ष शिक्षक ही ट्रांसफर के लिए आवेदन कर सकेंगे. इसके साथ ही आवेदन करने वाले को वरीयता के क्रम में पांच विकल्प देने होंगे और ट्रांसफर में भारांक के लिए दस श्रेणियां निर्धारित की गईं हैं और आवेदन भारांक के आधार पर ही वरीयता के क्रम में निस्तारित किए जाएंगे. जानकारी के मुताबिक जिन स्कूलों में एक विषय में एक से अधिक पद सृजित हैं और वहां पर एक ही टीचर नियुक्त है, वहां से किसी का ट्रांसफर नहीं किया जाएगा.

लखनऊ समेत कई जिले ऑनलाइन ट्रांसफर से बाहर

जानकारी के मुताबिक विभाग ने लखनऊ, गाजियाबाद व गौतमबुद्ध नगर के सभी शिक्षक और मेरठ, आगरा, वाराणसी, कानपुर और प्रयागराज में जिला मुख्यालय से आठ किलोमीटर के दायेर में स्थित स्कूलों को ऑनलाइन ट्रांसफर प्रक्रिया से बाहर रखा है. इनके शिक्षक अन्य जिलों में तबादले के लिए आवेदन कर सकते हैं जबकि अन्य जिलों के टीचर इन जिलों में ट्रांसफर के लिए आवेदन नहीं कर सकेंगे.

Similar Posts