मेरा दामाद गुजराती इसलिए मैंने वहां के लोगों को दिया आरक्षण, मेरे साथ हुआ धोखा- शिंदे

Sushil Kumar Shinde

पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री और कांग्रेस नेता सुशील कुमार शिंदे ने सोलापुर में एक कार्यक्रम के दौरान बिना किसी नेता का नाम लिए अपने ही पार्टी के नेताओं पर निशाना साधा है. इस दौरान आरक्षण पर शिंदे ने ऐसा बयान दे दिया, जो उनकी मुश्किलें बढ़ा सकता है. सुशील कुमार शिंदे ने यहां कहा कि जब मैं राज्य का मुख्यमंत्री था, उस वक्त मैंने गुजराती समाज को 2 परसेंट आरक्षण दिया था. आरक्षण इसलिए दिया क्योंकि मेरा दामाद गुजराती है.

सुशील कुमार शिंदे सोलापुर गुजराती समाज एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे. शिंदे सोलापुर में गुजराती समाज के लोगो को संबोधित करते हुए ये कहा कि जब मैं राज्य का मुख्यमंत्री था, उस वक्त मैंने गुजराती समाज को 2 परसेंट आरक्षण दिया था. ये एक अच्छा काम मैंने किया था, लेकिन लोग अब भूल गए हैं कि सुशील कुमार शिंदे ने कोई अच्छा काम किया था. आरक्षण इसलिए दिया क्योंकि मेरा दामाद गुजराती है.

दामाद का ख्याल रखने के लिए करना पड़ता है…

शिंदे ने आगे कहा कि लेकिन इन्हें मालूम है कि कैसे मुझे साजिश कर मुख्यमंत्री पद से हटाकर आंध्रप्रदेश का राज्यपाल बनाया गया. पर ठीक है. मैं उसके बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी शामिल हुआ. लेकिन वो जो एक बार हारे वो आजतक हारते ही आ रहे हैं. फिर भी मुझे ऐसा लगता है कि हमे ईमानदारी से अपना काम करते रहना चाहिए. शिंदे ने कहा है कि मैंने अपने दामाद की वजह से गुजराती समुदाय को आरक्षण दिया. उन्होंने कहा कि जब उन्हें अपने दामाद का ख्याल रखने के लिए कहा जाता है तो उन्हें यह सब करना पड़ता है. सुशील कुमार शिंदे के आरक्षण को लेकर दिए गए बयान के बाद चर्चा शुरू हो गई है.