मुंबई सेशन कोर्ट में पेश हुए राणा दंपत्ति, जमानत याचिका पर सुनवाई टली ; 27 जून को अगली सुनवाई

Navneet Rana Pc

बीजेपी सांसद नवनीत राणा (Navneet Rana) और उनके पति विधायक रवि राणा आज मुंबई की सेशन कोर्ट में पेश हुए. मुंबई सेशन कोर्ट ने मुंबई पुलिस ने सांसद रवि राणा (Ravi Rana) और नवनीत राणा की जमानत रद्द करने के लिए दायर याचिका पर सुनवाई अगली तारीख 27 जून तक के लिए स्थगित कर दी है. नवनीत राणा ने कहा किख् पुलिस विभाग ने आज कोर्ट में दबाव बनाया कि हमारा बेल कैंसल किया जाए लेकिन कोर्ट ने पुलिस को फटकार लगाई और अगली सुनवाई 27 जून को रखी है. यह सरकार हमें कहती हैं कि हनुमान चालीसा पढ़ना है तो कश्मीर में जाकर पढ़ो. आप जिस दिन मातोश्री में हनुमान चालीसा पढ़ेंगे हम जरूर कश्मीर में हनुमान चालीसा पढ़ेंगे. हनुमान चालीसा पढ़ने पर हमारे ऊपर राजद्रोह का केस लगाया जाता है तो आप क्या चेहरा लेकर रामलला के सामने दर्शन के लिए जा रहे हैं, भगवान सब देख रहे हैं.

नवनीत राणा ने सीएम ठाकरे पर निशाना साधते हुए कहा कि, राज्य के मुखिया अपने समान विचारधारा वालों को अलग रख कर बाकियों पर कार्रवाई करते हैं. मुख्य व्यक्ति अलग राह पर चलते हैं तो जनता ने हमें चुनकर दिया है कि हम मुखिया को राह दिखाएं. आज इतनी उम्र होने के बाद भी शरद पवार हर जिले में जाकर किसानों से मिलते हैं.

”आदित्य ठाकरे का अयोध्या जाना हिंदुत्व नहीं”

उद्धव ठाकरे सरकार के पास सिर्फ़ हमें परेशान के लिए समय है राज्य का विकास करने के लिए वक्त नहीं है. नवनीत राणा ने आगे कहा कि एक तरफ़ हमें हनुमान चालीसा नहीं पढ़ने दिया जा रहा है और दूसरी तरफ़ आदित्य ठाकरे अयोध्या जाकर रामलला के दर्शन कर रहे हैं. ये कोई हिंदुत्व नहीं है उनका. उद्धव ठाकरे औरंगाबाद गए लेकिन एक भी शब्द ओवसी और औरंगज़ेब पर नहीं बोला इससे साफ़ समझ में आता है की कैसा है उनका हिंदुत्व.

”BMC चुनाव में जनता इन्हें देगी जवाब”

वहीं, रवि राणा ने कहा कि पुलिस ने आज पूरा जोर लगाया कि हम पर कार्रवाई हो लेकिन कोर्ट ने 27 जून की तारीख दी है, उस दिन भी हम हाजिर रहेंगे सीपी और सीएम ने हम पर राज द्रोह का झूठा केस लगाया. रवि राणा ने आगे कहा कि आदित्य ठाकरे को मेरी सलाह है कि जो हनुमान के नहीं हुए वे राम के क्या होंगे. राणा ने कहा कि, आने वाले BMC चुनाव में जनता इन्हें जवाब देगी.

Similar Posts