मान सरकार का बड़ा फैसला, पंजाब में फिर लागू होगी पुरानी पेंशन, केजरीवाल ने बताया ऐतिहासिक

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सोमवार को कहा कि सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने पर उनकी सरकार विचार कर रही है.

पंजाब में फिर लागू होगी पुरानी पेंशन, भगवंत मान का बड़ा फैसला

Image Credit source: File Photo

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सोमवार को कहा कि सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने पर उनकी सरकार विचार कर रही है. राज्य के अधिकतर सरकारी कर्मचारी पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की मांग कर रहे हैं, जिसे 2004 में बंद कर दिया गया था.

मान ने ट्वीट किया, ‘हम पुरानी पेंशन बहाली पर विचार कर रहे हैं. मैंने मुख्य सचिव को पुराने पेंशन सिस्टम बहाली पर काम करने के लिए कहा है. पंजाब सरकार पुरानी पेंशन बहाली के फैसले पर वचनबद्ध है. कर्मचारी लगातार पुरानी पेंशन बहाली की मांग कर रहे हैं.’ बता दें कि चुनावों के समय आम आदमी पार्टी ने सरकारी कर्मचारियों से वादा किया था.

पिछले साल अगस्त में आम आदमी पार्टी (आप) के नेता एवं मौजूदा वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने वादा किया था कि अगर उनकी पार्टी पंजाब में सत्ता में आई तो पुरानी पेंशन प्रणाली को बहाल कर दिया जाएगा.

पंजाब सिविल सचिवालय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुखचैन सिंह खैरा ने मुख्यमंत्री की घोषणा का स्वागत किया और कहा कि राज्य के कर्मचारी पुरानी पेंशन प्रणाली बहाल कराने के लिए लंबे समय से संघर्ष कर रहे हैं.

CM मान ने 22 सितंबर को बुलाया विधानसभा का विशेष सत्र

आम आदमी पार्टी (AAP) के भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर उसकी सरकार को गिराने की कोशिश करने का आरोप लगाए जाने के कुछ दिन बाद मुख्यमंत्री भगवंत मान ने विश्वास मत हासिल करने के लिए 22 सितंबर को पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है. राज्य में आम आदमी पार्टी की सरकार ने पहले दावा किया था कि भाजपा ने उसके कुछ विधायकों को 25-25 करोड़ रुपये देने की पेशकश की थी.

जर्मनी में मौजूद मान ने सोमवार को एक वीडियो संदेश में कहा, ‘आपने यह सुना होगा कि कैसे उन्होंने भारी जनादेश के साथ निर्वाचित सरकार को सत्ता से बाहर करने के प्रयास के तहत हमारे विधायकों से संपर्क करने और उन्हें पैसे तथा अन्य प्रलोभन देने की कोशिश की.’

(भाषा से इनपुट के साथ)

Leave a Reply

Your email address will not be published.