महाराष्ट्र: औरंगाबाद में ट्रेन में डकैती, चाकुओं की नोक पर देवगिरी एक्सप्रेस के यात्रियों को लूटा, महिलाओं के आभूषण छीन कर फरार हुए आरोपी

Aurangabad Train Robbery

महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद के पास दौलताबाद से पोटुल (Potul in Aurangabad) रेलवे स्टेशन के दरम्यान ट्रेन में डकैती और लूट की घटना सामने आई है. यह घटना औरंगाबाद से मुंबई की ओर आती हुई देवगिरी एक्सप्रेस (Robbery loot in Devagiri Express) ट्रेन में हुई है. लुटेरों ने पहले सिग्नल को कपड़ों से ढंक दिया, ट्रेन में पत्थरों से हमले किए और ट्रेन रुकवाई. फिर ट्रेन में घुसे. चेन खींचा, चाकुओं की नोक पर यात्रियों को लूटा, महिलाओं के गहने छीन लिए और फरार हो गए. आठ से दस लुटेरों ने करीब आधा घंटे तक इस लूटमार को अंजाम दिया. इस अचानक हुई लूट की वारदात से ट्रेन में सफर कर रहे लोगों में दहशत फैल गई.

पिछले कुछ दिनों में ये लगातार दूसरी घटना है. बीस दिनों पहले इसी जगह पर इसी तरह से ट्रेन रोक कर मुसाफिरों से मारपीट की गई थी और उन्हें लूट लिया गया था. फिलहाल इस पूरे मामले की पुलिस जांच शुरू है. देर रात आज (22 अप्रैल, शुक्रवार) हुई इस घटना से खलबली मच गई है.

S5 से S9 के डब्बों में हुई सबसे ज्यादा लूट

गुरुवार को औरंगाबाद स्टेशन से देवगिरी एक्सप्रेस मुंबई की ओर रवाना हुई. थोड़ी ही देर बाद आधी रात को करीब 12 से 1 बजे के दौरान पोटुल रेलवे स्टेशन के पास सिग्नल पर कपड़ा बांधकर ट्रेन रुकवा दी गई. इस बीच ट्रेन पर पत्थरबाजियां शुरू हो गईं. अचानक हुई इस घटना से यात्रियों को एकदम से कुछ समझ नहीं आया. तभी कुछ लुटेरे ट्रेन के अंदर घुस गए और चाकुओं की नोंक पर लूटमार करने लगे. इस बीच कुछ लुटेरों ने बाहर से पत्थर फेंकना जारी रखा. इस अचानक हुए हमले से यात्री दहशत में आ गए. लुटेरों ने खास तौर से एस 5 से एस 9 के डब्बों को अपना निशाना बनाया. इस दौरान बाकी डब्बों के यात्रियों को मामला समझ आते ही उन्होंने अपने डब्बों के दरवाजे और खिड़कियां तुरंत बंद कर लीं और अपने आप को बचाया.

1 अप्रैल 2022 को नंदीग्राम एक्सप्रेस और नांदेड़-मनमाड पैसेंजर ट्रेन को रोक कर यात्रियों के साथ लूटमार की गई थी. इसके बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई थी. लेकिन आज आधी रात को एक बाऱ फिर ऐसी घटना होने से रेल यात्रियों की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं.

Similar Posts