बिहार में शराबबंदी का नया जुगाड़, एंबूलेंस गैस,सिलेंडर के बाद अब शौचालय सफाई की टंकी से तस्करी, 800 लीटर शराब बरामद

iquor smuggling from toilet cleaning tank

बिहार में शराबबंदी (Liquor ban in bihar ) है. यहां शराब पीना, पिलाना, शराब बेचना और बनाना है अपराध है. इसके बावजूद शराब तस्करी के लगातार मामले सामने आ रहे हैं. शराबबंदी को प्रभावी बनाने के लिए पुलिस अलर्ट है इसके बाद भी तस्कर तस्करी के नए-नए तरीके इजाद कर लेते हैं. बिहार के अररिया में सेफ्टी टैंक चालक गिरफ्तार हुआ है. पुलिस ने शौचालय टैंक की सफाई करने वाले सेफ्टी टैंक में तस्करी कर शराब ले जाते हुए तस्कर को गिरफ्तार किया है.
दरअस पुलिस को खबर मिली थी की बंगाल से विदेशी शराब की एक बड़ी खेप जोकीहाट के रास्ते गुजरने वाली है. जिसके बाद पुलिस अलर्ट हो गई और एनएच 327 ई नाकेबंदी कर वहां से गुजरने वाले वाहनों का जांच करने लगी

बंगाल से लाई जा रही थी शराब

पुलिस ने यहां अररिया की तरफ जाने वाली सभी गाड़ियों की जांच कर रही थी इस दौरान वहां से शौचालय की टंकी सफाई करने वाला एक ट्रेक्टर वहां से गुजर रहा था जिसके बाद पुलिस ने उसे रोक कर जांच पड़ताल की तो उससे कुछ नहीं मिला. इस दौरान पुलिस के जवानों ने टैंक का ढक्कन खुलवाया तो अंदर भारी मात्रा में बोरी के बंडल नजर आया. जिसके बाद बंडलों को खुलवाया गया तो उसमें विदेशी शराब मिली पुलिस टीम ने ये कार्रवाई चरघरिया के पास की थी.

ट्रैक्टर चालक गोपाल चौपाल गिरफ्तार

थानाध्यक्ष ने बताया कि टैंक को थाने लाकर जब खाली कराया गया तो उसके अंदर से 813 लीटर विदेशी शराब बरामद हुई है. शराब की कीमत लाखों रुपए बताई जा रही है. शौचालय टंकी से इतनी मात्रा शराब बरामद होने के बाद सभी आश्चर्यचकित रह गए. थानाध्यक्ष ने कहा कि शराबबंदी के बावजूद तस्कर शराब तस्करी के नएृनए तरीके ढूंढ रहे हैं और शराब तस्करी करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन पुलिस के अलर्ट रहने से उनके मंसूबे कामयाब नहीं हो रहे हैं.

एंबूलेंस के बाद अब यह नया तरीका

पुलिस ने ट्रैक्टर चालक गोपाल चौपाल को गिरफ्तार कर लिया है. इससे पहले बिहार में एंबूलेंस में शराब तस्करी के कई मामले सामने आए थे.जिसके बाद पुलिस इसे लेकर अलर्ट हो गई तो शराब तस्कर कूड़े की गाड़ी में कूड़ें के अंदर और गैस सिलेंडर के अंदर शराब तस्करी करने लगे और अब यह तरीका सामने आया है.

Similar Posts