बारात लेकर शादी करने निकला था लूट का आरोपी, रास्ते में पुलिस ने दबोचा, फिर थाने में कराए सात फेरे, दुल्हन को मायके तो दूल्हे को भेजा जेल

Bihar Aurangabad

वैसे तो थाने में प्रेम विवाह कराने और दो प्यार करने वाले को मिलाने के कई मामले सामने आए है, लेकिन औरंगाबाद में लूट और आर्म्स एक्ट मामले के एक आरोपी की पुलिस ने थाने में शादी (Marriage in police station) कराई है. दरअसल औरंगाबाद में दुल्हन के घर बारात लेकर पहुंचने से पहले आर्म्स एक्ट मामले के एक आरोपी दूल्हे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दुल्हे की गिरफ्तारी के बाद होने वाली दुल्हन के साथ कोई नाइंसाफी नहीं हो और दुल्हे की वजह से लड़की वालों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े इसके लिए पुलिस ने आरोपी को जेल भेजने से पहले थाने के मंदिर में उसकी शादी कराई. पुलिस ने बकायदा पंडित को बुलाकर आरोपी युवक की विधि विधान के साथ शादी कराई. इसके बाद उसे जेल भेज दिया गया. आरोपी दुल्हे का नाम नाम सोनू कुमार है. वह दाउद नगर थाना क्षेत्र के उच्चकुंधी गांव का रहने वाला है.

उसके खिलाफ ओबरा थाने में लूट का मामला (कांड संख्या 26/21) दर्ज है. जबकि, दाउद नगर थाने में भी वह आर्म्स एक्ट (कांड संख्या 72/21) के केस में आरोपी है. इन मामलों में वह पिछले एक साल से फऱार चल रहा था.

तीन थानों की पुलिस ने मिलकर सोनू को पकड़ा

दाउद नगर और ओबरा थाना का मोस्टवांटेड रहे सोनू कुमार के बारे में पुलिस को मुखबिरों से खबर मिली थी की उसकी बुधवार को शादी है. और उसका बारात देवकुंड थाना के दुलार बिगहा गांव जाने वाला है. जिसके बाद ओबरा, दाउद नगर और खुदवां थाना पुलिस ने एक संयुक्त अभियान चलाकर बेल मोड़ से होकर गुजरने वाली गाड़ियों को जांच शुरू कर दी. इस दौरान पुलिस ने आरोपी दुल्हे सोनू कुमार को गिरफ्तार कर लिया.

शादी के बाद जेल गया दुल्हा

इसके बाद पुलिस आरोपी युवक को गिरफ्तार कर ओबरा थाना ले गई. वहां उससे पूछताछ के बाद उसे पुलिस अभिरक्षा में मदनपुर थाना ले जाया गया. यहां भी उसके साथ पूछताछ हुई. इसके बाद उसे देव थाना लाया गया. देव थाना में ही लड़की वालों को बुलाकर उसकी शादी कराई गई. फिर बाद दुल्हन को उसके घर भेज दिया गया. जबकि आरोपी दूल्हे को गिरफ्तार कर लिया गया, और कानूनी कार्रवाई पूरी करने के बाद दुल्हे को जेल भेज दिया गया.

Similar Posts