फिलीपींस ने जैविक कृषि क्षेत्र में भारत के साथ मिलकर काम करने की जताई इच्छा

India Philippines Agriculture

फिलीपींस के कृषि मंत्री विलियम डार ने बृहस्पतिवार को केंद्रीय कृषि (Agriculture) एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से नई दिल्ली स्थित कृषि भवन में मुलाकात की. उन्होंने जैविक कृषि क्षेत्र में मिलकर काम करने की इच्छा जताई. उनके साथ फिलीपींस का प्रतिनिधिमंडल भी शामिल रहा. डार ने कहा कि भारत (India) अपने स्तर पर संयुक्त कार्य समूह बैठक करें, जो पिछले वर्ष से कोरोना महामारी के कारण लंबित है. उधर, तोमर ने कहा कि दोनों देशों में चावल (Rice)का काफी उपभोग होता है और चावल प्रिय देश हैं, जिससे ये भौगोलिक रूप से समरूप और एक-दूसरे से घनिष्ठ हो जाते हैं.

तोमर ने आश्वासन दिया कि भारत जल्द ही आगामी संयुक्त कृषि कार्य बैठक की मेजबानी करेगा, जिसमें सभी द्विपक्षीय कृषि मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की जाएगी. फिलीपींस के कृषि मंत्री डार ने कृषि एवं अन्य क्षेत्रों में दोनों देशों के अच्छे संबंधों की सराहना की. उन्होंने उल्लेख किया कि भारत के फिलीपींस के साथ बेहतर संबंध हैं. वर्तमान में भारत, आर्थिक क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है.

कृषि को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम करने की पहल

डार ने जैविक (Organic) और गैर-जैविक क्षेत्र जैसे बेहतर कृषि उत्पादों के क्षेत्र में भारत के साथ काम करने की इच्छा व्यक्त की. उन्होंने जोर दिया कि प्रकृति को प्रभावित किए बिना दोनों देशों को जैविक उत्पादों के क्षेत्र में संतुलित दृष्टिकोण अपनाना चाहिए.

उन्होंने किसानों की आय दोगुनी करने के भारत सरकार के विचार पर प्रकाश डालते हुए स्थानीय किस्म की कृषि को बढ़ावा देने के लिए एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करने का स्वागत किया. उधर, तोमर ने फिलीपींस (Philippines) के प्रतिनिधिमंडल का गर्मजोशी से स्वागत करते हुए दोनों देशों के बीच मैत्रीपूर्ण संबंधों पर प्रसन्नता व्यक्त की.

तोमर ने व्यापार और कृषि क्षेत्र में द्विपक्षीय संबंधों पर संतोष व्यक्त करने के साथ ही कृषि क्षेत्र में फिलीपींस के लोगों की कड़ी मेहनत पर प्रसन्नता व्यक्त की. उनसे कृषि क्षेत्र में फिलीपींस के नए अनुसंधान के बारे में अपने ज्ञान व अनुभव को भारत के साथ साझा करने का अनुरोध किया.

फिलीपींस में खेती

यह दुनिया का 8वां सबसे बड़ा चावल उत्पादक है. यहीं पर अंतर्राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान (IRRI) भी स्थित है. जहां काम करना भारत के चावल वैज्ञानिकों का सपना होता है. यहीं पर राइस का जीन बैंक भी स्थित है. यहां विभिन्न देशों की चावल की लगभग 1.25 लाख किस्में रखी गई हैं.

अनानास उत्पादन के लिए फिलीपींस मशहूर है. वो खुद को दुनिया का सबसे बड़ा अनानास उत्पादक होने का दावा करता है. यहां इसके अलावा चावल और नारियल का उत्पादन होता है. गन्ना उत्पादन में भी इसका अहम स्थान है. इसके अलावा कॉफी, चॉकलेट और रबर उत्पादन भी यहां होता है.

Similar Posts