फरवरी में EPFO से 14.12 लाख नए सब्सक्राइबर जुड़े, पिछले साल के मुकाबले 14 प्रतिशत की बढ़त

Epfo1

सेवानिवृत्ति कोष का प्रबंधन करने वाले निकाय ईपीएफओ ( EPFO) ने जानकारी दी है कि इस साल फरवरी में उसके सब्सक्राइबर (subscriber) की संख्या शुद्ध रूप से 14.12 लाख बढ़ गई है. इसमें पिछले साल की इसी महीने के मुकाबले 14 प्रतिशत की बढ़त दर्ज हुई है, पिछले साल इसी महीने में 12.37 लाख सब्सक्राइबर बढ़े थे, वहीं ईपीएफओ के आंकड़ों के अनुसार अप्रैल 2021 से फरवरी 2022 के बीच शुद्ध रूप से 1.1 करोड़ एनरोलमेंट हुए हैं. आंकड़ों में ये बढ़त महामारी के बाद देश के जॉब मार्केट (Job Market) में रिकवरी के संकेत है.

ईपीएफओ के सब्सक्राइबर बढ़े

श्रम मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि ईपीएफओ के अस्थाई पेरोल आंकड़े आज जारी किये गये हैं जिसके मुताबिक फरवरी 2022 के माह में ईपीएफओ में शुद्ध आधार पर 14.12 लाख नये सब्सक्राइबर जुड़े हैं. आंकड़ों के अनुसार अप्रैल 2021 से फरवरी 2022 के बीच कुल एनरोलमेंट 1.11 करोड़ रहे हैं, जबकि इससे पिछले पूरे वित्त वर्ष में 77.08 लाख एनरोलमेंट हुए थे. वहीं साल 2019-20 में 78.58 लाख एनरोलमेंट हुए थे. वहीं जनवरी के मुकाबले फरवरी 2022 में नये सब्सक्राइबर की संख्या 31,826 बढ़ी है. वहीं पिछले साल की फरवरी के आंकड़ों के मुकाबले फरवरी 2022 में सब्सक्राइबर की संख्या में 1,74,314 सब्सक्राइबर की बढ़त देखने को मिली है. जनवरी 2022 के महीने में कुल 13,79,977 सब्सक्राइब बढ़े थे वहीं पिछले साल फरवरी 2021 में सब्सक्राइबर की संख्या में 12,37,489 की बढ़त दर्ज हुई है. मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि अक्टूबर, 2021 के बाद से सब्सक्राइबर की संख्या में लगातार वृद्धि हुई है, जो संगठन द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं में उनके विश्वास को प्रदर्शित करता है.

क्या हैं आकड़ों की खास बातें

फरवरी के दौरान जोड़े गए कुल 14.12 लाख ग्राहकों में से, लगभग 8.41 लाख नए सदस्यों को पहली बार कर्मचारी भविष्य सामाजिक सुरक्षा कवर के तहत नामांकित किया गया है. वहीं लगभग 5.71 लाख ग्राहक योजना से बाहर निकलने के बाद अंतिम निकासी के लिए दावा करने के बजाय, पिछले पीएफ खाते में जमा को वर्तमान पीएफ खाते में स्थानांतरित करके योजना में फिर से शामिल हो गए. फरवरी, 2022 के दौरान सबसे अधिक 3.70 लाख शुद्ध नामांकन दर्ज करके 22-25 वर्ष का आयु-समूह सबसे आगे रहा है, इसके बाद 29-35 वर्ष के आयु-समूह का स्थान है जिसके 2.98 लाख नये सब्सक्राइब जुड़े. वहीं महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, गुजरात, हरियाणा और दिल्ली के प्रतिष्ठान इस महीने के दौरान सभी आयु समूह के लगभग 9.52 लाख सब्सक्राइब को जोड़कर सबसे आगे हैं, जो कि कुल जोड़े गए शुद्ध सब्सक्राइबर का लगभग 67.49 प्रतिशत है

Similar Posts