प्रापर्टी डीलर के हत्यारोपियों को छुड़ाने की साजिश का हुआ खुलासा, पंजाब से बुलाए गए थे भाड़े के शूटर

Uttarakhand Police

उत्तराखंड (Uttarakhand) के रुद्रपुर में पुलिस ने एक बड़ी साजिश का खुलासा किया है. जिले में प्रापर्टी डीलर समीर हत्याकांड के तीन आरोपियों को कोर्ट परिसर से छुड़ाने की साजिश पुलिस की सतर्कता के कारण नाकाम हो गई. पुलिस ने कार में सवार चार बदमाशों को हिरासत में ले लिया और उनके पास से एक पिस्टल भी बरामद कर ली. पुलिस का कहना है कि आरोपी शूटरों को पंजाब (Punjab) से बुलाया गया था. इस मामले में सभी हिरासत में हैं और पूछताछ जारी है.

जानकारी के मुताबिक पुलिस को प्रापर्टी डीलर के हत्यारों को छुड़ाने की योजना के बारे में मंगलवार की रात को जानकारी मिली थी और पुलिस टीम ने बुधवार को कोर्ट परिसर में अपना जाल बिछा दिया था. जिसके बाद पुलिस की सतर्कता के कारण चार बदमाश पिस्टल के साथ पकड़े गए और देर रात तक सभी से पूछताछ की गई. पुलिस का कहना है कि बदमाशों से अहम जानकारियां मिली हैं और उसकी जांच की जा रही है. जिले के एसएसपी टीसी मंजूनाथ के मुताबिक मई 2018 में समीर की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसमें पुलिस ने अंगरेज सिंह उर्फ रिंकू, सुखदेव सिंह उर्फ सुखा पुत्र बुध सिंह निवासी चंदोखा कोठी, मदनापुर, शाहजहांपुर, उत्तर प्रदेश, जसविंदर सिंह पुत्र कुलदीप सिंह निवासी ओमेक्स कॉलोनी थाना पंतनगर, प्रसन्नजीत सिंह संधू उर्फ सन्नी पुत्र गुरबाज सिंह निवासी पाम कॉलोनी, कुंडेश्वरी चौकी काशीपुर को गिरफ्तार किया था.

मुख्य आरोपी है फरार

पुलिस का कहना है कि इस मामले में मुख्य आरोपी राजा उर्फ रणदीप सिंह फरार है और ुस पर 20 हजार का इनाम भी घोषित किया है. बुधवार को बाकी आरोपियों को कोर्ट में पेश होना था और बदमाशों ने उन्हें छुड़ाने की योजना बनाई थी. लेकिन पुलिस को मुखबिर से सूचना मिल गई थी. पुलिस ने हल्द्वानी जेल प्रशासन से गुहार लगाई और आरोपी को कोर्ट में पेश नहीं होने दिया. जिसके बाद बड़ी साजिश नाकाम हो गई.

पुलिस ने कोर्ट परिसर में की थी चेकिंग

पुलिस का कहना है कि समीर हत्याकांड के आरोपियों को बुधवार को अदालत में पेश किया जाना था और इसके लिए पंजाब से शूटर बुलाए गए थे. जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने कोर्ट परिसर में सघन चेकिंग अभियान चलाया. जिसमें कार में सवाल चार संदिग्धों को पकड़ा गया.

Similar Posts