पहले सिर पर हथौड़े से वार, फिर फांसी पर लटका दिया शव… मासूम के रोने से पड़ोसियों को मिली खबर, शक ससुराल वालों पर

Hamirpur Murder

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर (Hamirpur) जिले में शुक्रवार को एक नव विवाहिता की मौत से सनसनी फैली गई. जानकारी के मुताबिक पहले नव विवाहिता के सिर पर वार कर उसे मारा गया और बाद में उसको फांसी के फंदे पर लटकाया गया. घटना की जानकारी मिलते ही मौके में पहुंचे पुलिस के आला अधिकारियों ने मामले की जांच शुरू करते हुए शव को कब्जे में ले लिया और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. हमीरपुर जिले के कुरारा थाना क्षेत्र के गोकुल का डेरा में रहने वाले राजबहादुर निषाद ने अपनी बेटी वंदना की शादी उमराहट गांव निवासी सत्यम से 2020 में की थी. शादी के बाद दहेज की मांग को लेकर जेठानी और सास से विवाद के बाद वो अलग रहने लगी थी और उसका पति सत्यम गुजरात मे नौकरी कर रहा था. मृतका की शादी को महज दो साल ही हुए थे और उसकी एक साल की बेटी भी है.

शुक्रवार को वंदना का शव उसी के घर के अंदर फांसी पर लटका हुआ मिला. शुरुआती जांच में पता चलता है कि उसके सिर पर हथौड़े से वार कर पहले उसे मौत के घाट उतार गया, फिर फांसी पर लटकाकर आत्महत्या का रूप देने की कोशिश की गई. फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है.

परिजनों ने नही उठाने दिया शव, SSP खुद पहुंचे घटनास्थल

सुबह जब पड़ोसी जागे तो कमरे के बाहर मृतका की एक साल बच्ची रो रही थी और दरवाजा खुला हुआ था. तब पड़ोसियो को घटना की जानकारी मिली और उन्होंने मृतका के ससुर फूल सिंह के साथ पुलिस को घटना की जानकारी दी. परिजनों ने मामले के खुलासे को लेकर पुलिस को शव नही उठाने दिया, जिसके बाद अपर पुलिस अधीक्षक अनूप कुमार, फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वॉड लेकर मौके पर पहुंचे. उन्होंने परिजनों को समझा बुझाकर शव को कब्जे में लिया और मामले की जांच शुरू कर दी.

डॉग स्क्वॉड पड़ोसी के मकान तक गया और वापस लौट आया. फील्ड यूनिट की टीम ने भी खून और मिट्टी के नमूने जुटाए हैं. SSP अनूप कुमार की मानें तो विवाहिता की पहले हत्या हुई है फिर उसको फांसी पर लटकाया गया है. मामला पारिवारिक विवाद का नजर आ रहा है क्योंकि ससुराल पक्ष के लोग फरार हैं.

परिजनों ने ससुराल वालों पर लगाया हत्या का आरोप

वंदना निषाद की मौत की खबर सुनते ही उसकी मां छिदिया देवी, चाचा रामबाबू और बहन रामदेवी मौके में पहुंचे और उन्होंने वंदना के ससुराल वालों पर दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि घर के अंदर बाहरी कैसे दाखिल हो सकता है. बड़ी बहन रामदेवी ने भी बताया कि मृतका के पेट में चार माह का बच्चा भी था. उसके गुप्तांगों में भी चोट के निशान थे और वह निर्वस्त्र हालत में पड़ी थी. कमरे में भी चारो तरफ खून फैला हुआ था.

वारदात में कई कहानियां आ रही हैं सामने

वंदना की हत्या के बीच कई तथ्य सामने आ रहे हैं. हाल ही के दिनों में सुनील निषाद नाम का युवक मृतका के घर मे घुसा था, जिसकी शिकायत उसने मनकी चौकी में की थी. इसके बाद सुनील ने मृतका के पति सत्यम को मोबाइल पर धमकी देते हुए वंदना की हत्या 8 दिन में करने की बात कही थी. फिलहाल पुलिस ने सुनील के पिता गोटे निषाद को हिरासत में ले लिया है और सुनील घर से फरार है.

Similar Posts