नॉमिनेशन फाइल करने से पहले द्रौपदी मुर्मू ने खेला मास्टरस्ट्रोक, विपक्षी दलों के तीन बड़े नेताओं से बात कर मांगा समर्थन

Murmu

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू आज नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए संसद पहुंचीं. इस दौरान सत्तारूढ़ भाजपा तथा NDA के कई नेता उनके आवेदन का समर्थन करने के लिए संसद में मौजूद थे. मुर्मू (Draupadi Murmu) ने नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले एक मास्टरस्ट्रोक खेला और विपक्षी दलों के तीन बड़े नेताओं से बात कर उनसे समर्थन मांगा. उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार को बारी-बारी से फोन कर अपने पक्ष में समर्थन मांगा.

सूत्रों के मुताबिक टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने द्रौपदी मुर्मू को गुड लक विश किया, लेकिन समर्थन के मुद्दे पर कोई जबाब नहीं दिया. विपक्ष को कठघरे में खड़ा करने की केंद्र सरकार की ये एक बड़ी चाल है. अब यदि विपक्षी दल के ये तीनों बड़े नेता द्रौपदी मुर्मू का विरोध जारी रखते हैं तो एक आदिवासी महिला जो ओडिशा के पिछड़े इलाके से आती है, उसके विरोध का मैसेज जाएगा. यहां ये जानना जरूरी है कि गैर एनडीए दलों में वाईआरसीपी मुखिया जगन रेड्डी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और जेडीएस के एस देवेगौड़ा ने द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने की घोषणा कर दी है.

द्राैपदी मुर्मू ने महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की

बता दें कि एनडीए नेताओं के अलावा, वाईएसआर कांग्रेस के विजयसाई रेड्डी और बीजू जनता दल के नेता सस्मित पात्रा भी मूर्मू के नामांकन का समर्थन करने के लिए संसद में मौजूद थे. इसके अलावा अन्नाद्रमुक नेता ओ पनीरसेल्वम और जद (यू) के राजीव रंजन सिंह पहले ही संसद पहुंच चुके थे. नामांकन दाखिल करने से पहले मुर्मू ने महात्मा गांधी, बीआर अंबेडकर और बिरसा मुंडा की प्रतिमाओं पर पुष्पांजलि अर्पित की.

यह खबर अपडेट की जा रही है.

Similar Posts