नशे में थे CM भगवंत मान, फ्लाइट से उतारा गया, सुखबीर बादल ने लगाए गंभीर आरोप

सोशल मीडिया का दावा है कि मान नशे में होने के कारण फ्रैंकफर्ट में विमान से उतरा गया. आम आदमी पार्टी (आप) राजनीतिक विरोधियों के इन आरोपों का जोरदार खंडन कर रही है.

CM भगवंत मान (फाइल फोटो)

Image Credit source: Agency

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान जर्मनी से वापस लौट रहे थे. आखिरी वक्त पर उनको फ्लाइट छोड़नी पड़ी. सोशल मीडिया का दावा है कि मान नशे में होने के कारण फ्रैंकफर्ट में विमान से उतरा गया. इसके अलावा विपक्षी पार्टियों के नेता भी यही आरोप लगा रहे हैं. शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने ट्वीट किया, सह-यात्रियों के हवाले से मीडिया में आई खबरों में कहा गया है कि पंजाब CM भगवंत मान को लुफ्थांसा फ्लाइट से उतारा गया क्योंकि वे बहुत नशे में थे और चलने की हालत में भी नहीं थे. ऐसी रिपोर्ट पंजाबियों को शर्मिंदा करती हैं.’

ऑनलाइन मीडिया की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि मान 11 से 18 सितंबर तक जर्मनी की यात्रा पर थे. 18 को उनकी वापसी की फ्लाइट थी. रिपोर्ट में दावा किया है कि तबियत खराब होने के कारण उन्होंने फ्लाइट नहीं ली थी. रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि मान और उनके अधिकारियों की टीम निर्धारित समय के अनुसार बुक की गई फ्लाइट में नहीं बैठे. भारतीय वाणिज्य दूतावास ने कथित तौर पर पंजाब के सीएम मान को हवाई अड्डे से लेने के लिए फिर से कैब बुलाई क्योंकि वह फ्लाइट में नहीं चढ़े थे. वहां से कहा गया कि मान की तबीयत थोड़ी खराब थी और वह आज रात फ्रैंकफर्ट से फ्लाइट पकड़ेंगे और वापस आ जाएंगे.’

सोशल मीडिया का दावा है कि मान नशे में होने के कारण फ्रैंकफर्ट में विमान से उतरा गया. आम आदमी पार्टी (आप) राजनीतिक विरोधियों के इन आरोपों का जोरदार खंडन कर रही है कि मान को नशे में होने के कारण फ्रैंकफर्ट हवाई अड्डे पर उतारा गया था. उन्होंने इसे झूठा और तुच्छ करार दिया है. लेकिन फ्रैंकफर्ट से लुफ्थांसा के एलएच 760 के दिल्ली आने के एक चश्मदीद ने कहा, “पंजाब के मुख्यमंत्री (भगवंत मान) स्पष्ट रूप से नशे में होने के कारण फ्रैंकफर्ट में उतरे थे.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.