दिल्ली वालों को साफ-सुंदर सड़क देना हमारी जिम्मेदारी, रखरखाव में ढिलाई बर्दाश्त नहीं; मनीष सिसोदिया ने लिया सड़कों का जायजा

Manish Sisodiya

देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में केजरीवाल सरकारसड़कों को बेहतर और यूजर फ्रेंडली बनाने के लिए प्रतिबद्ध है. इस दिशा में बुधवार को उपमुख्यमंत्री और पीडब्ल्यूडी मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodiya) ने PWD के उच्चाधिकारियों के साथ ITO से लेकर तिलक ब्रिज तक के सड़क का औचक निरीक्षण किया. इस दौरान उन्होंने सड़कों के रखरखाव, फूटओवर ब्रिज, रोड मार्किंग आदि का ध्यान न रखने को लेकर संबंधित अधिकारियों को फटकार लगाई. साथ ही सभी कमियों को तुरंत दूर करने के निर्देश दिए. उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी दी कि वे अपना काम जिम्मेदारी से करें. साथ ही अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कियहां की सड़कों को और यूजर फ्रेंडली बनाने और और इनके सौंदर्यीकरण से संबंधित प्लान हप्ते भर के भीतर तैयार करें.

पीडब्ल्यूडी मंत्री ने वहां मौजूद छोटी से छोटी जानकारी का निरीक्षण किया. इसमें उन्होंने पाया कि रोड पर मार्किंग या तो गायब है या उनकी प्लेसमेंट ठीक नहीं है. साथ ही कुछ जगहों पर पैचवर्क के बाद वहां रोड मार्किंग नहीं की गई है. जहां पर उन्हें तिलक ब्रिज के पास बने स्काईवाक के 1 लिफ्ट में खामी, फूटओवर ब्रिज की साफ़ सफाई में कमी पाई गई. इन सबको लेकर उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी दी. इसके अलावा अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि इन व्यवस्थाओं के रखरखाव में किसी भी प्रकार का लचर रवैया बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने बताया कि न केवल आईटीओ बल्कि दिल्ली के किसी भी हिस्से में सड़कों के रखरखाव में ऐसी कोताही बरती गई. ऐसे में वहां संबंधित लोगों पर सख्त करवाई की जाएगी.

सड़कों के रखरखाव में ढिलाई नहीं की जाएगी बर्दाश्त

सिसोदिया ने बताया कि हमारा उद्देश्य दिल्ली की सड़कों को शानदार बनाना है. इसके अलावा लोगों को सड़कों पर चलने का बेहतर अनुभव देना है. ऐसे में इनके रखरखाव में कोई भी कोताही न बरती जाए. उन्होंने कहा कि सड़कों को जनता के लिए साफ़, सुंदर व सुरक्षित बनाना हमारी जिम्मेदारी है और जबाबदेही भी है. इसलिए इनके निर्माण व रखरखाव के लिए जो भी मानक निर्धारित किए गए है उसका अच्छे से पालन हो. साथ ही सभी बुनियादी बातों का भी विशेष ध्यान रखा जाए.

रोड मार्किंग डिज़ाइन तैयार कर हफ्तें भर के भीतर सौंपने के दिए आदेश

उपमुख्यमंत्री ने अधिकारियों को रोड स्ट्रेच पर मौजूद सभी खामियों को दूर करने के निर्देश दिए है. इसके साथ ही स्टैण्डर्ड का ध्यान रखते हुए रोड मार्किंग डिज़ाइन तैयार करने व रखरखाव से संबंधित प्लान तैयार कर उसे हफ्तें भर के भीतर सौंपने के आदेश दिए. गौरतलब है कि,इस बाबत आने वाले दिनों में दिल्ली के सड़कों के रखरखाव के लिए जिम्मेदार सभी JE स्तर के अधिकारियों की एक बैठक बुलाई जा सकती है, जिसमें उन्हें सड़कों के रखरखाव से संबंधित जरुरी निर्देश दिए जाएंगे.

Similar Posts