‘दिल्ली पुलिस अब गुंडागर्दी पर उतरी, क्या हम आतंकवादी हैं?’ राहुल गांधी से ED की पूछताछ का विरोध कर रहे कांग्रेस नेता बोले

Congress Protest

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi)से धन शोधन के एक मामले में लगातार तीसरे दिन प्रवर्तन निदेशालय (ED) पूछताछ कर रहा है. इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता पार्टी के मुख्यालय के बाहर ईडी की पूछताछ का जमकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, जिन्हें पुलिस ने हिरासत में लिया है. प्रदर्शनकारियों ने तख्तियां भी लहराईं, जिनमें लिखा था ‘मैं भी राहुल हूं’. इस विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने किया. उन्होंने कहा, ‘क्या हम आतंकवादी हैं? तुम हमसे क्यों डरते हो? वे कांग्रेस नेता-कार्यकर्ता पर पुलिस बल का इस्तेमाल कर रहे हैं.’

वहीं, कांग्रेस के प्रमुख प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘बीजेपी, मोदी सरकार और दिल्ली पुलिस अब गुंडागर्दी पर उतर आई है, AICC के कार्यालय में घुसकर कार्यकर्ताओं और नेताओं को मारना पीटना संयम की सब हदें पार कर गई है. दिल्ली पुलिस के कठपुतली अधिकारी भी जान लें कि ये याद रखा जाएगा. हम गांधीवादी, शांतिप्रिय और अहिंसक हैं. आप अगर नेमप्लेट उतार कर दफ्तर के दरवाजे तोड़कर गुंडागर्दी करेंगे तो फिर ये मत समझिए कि कांग्रेस के कार्यकर्ता चुप बैठे रहेंगे. हमें जवाब देना भी आता है.’

‘पहली बार किसी पार्टी के कार्यकर्ता अपने ही कार्यालय में नहीं जा सकते’

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, ‘पूरे देश में जो हालात हैं वो सबके सामने हैं. तीन दिन से हम लोग दिल्ली में है और पहले दिन 200 लोगों को अनुमति दी गई, कल कुछ नेताओं को अनुमति दी गई और आज तो हद हो गई कि हम अपने स्टाफ को भी नहीं ला सकते हैं. हमसे कहा गया कि केवल दो मुख्यमंत्री ही आ सकते हैं और लोग नहीं आ सकते हैं. किस प्रकार से हम पार्टी कार्यालय में पहुंचे…ऐसी स्थिति पहले नहीं हुई थी.’

उन्होंने कहा, ‘पहली बार किसी पार्टी के कार्यकर्ता अपनी ही पार्टी के कार्यालय नहीं जा सकते है और ये स्थिति बनी क्यों…क्योंकि पिछले 8 वर्ष से देश में जो हो रहा है उसे एक व्यक्ति लगातार केंद्र सरकार की नाकामियों को सबके सामने रख रहा है वो है राहुल गांधी. देश के हर मुद्दे को राहुल गांधी ने उठाया है और इसलिए इन्हें परेशान किया जा रहा है. इनका (बीजेपी) का जो राष्ट्रवाद है वो आयातित राष्ट्रवाद है, उस राष्ट्रवाद में जो भी विरोध में हो उसे दबा दिया जाए और कुचल दिया जाए…ये होता है.’

कांग्रेस और कार्यकर्ताओं के बीच बनी झड़प जैसी स्थिति

समाचार एजेंसी एएनआई की ओर से साझा किए गए वीडियो में देखा जा सकता है कि दिल्ली पुलिस व अन्य सुरक्षा कर्मियों के साथ दर्जनों कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच अकबर रोड पर पार्टी के मुख्यालय के बाहर तनावपूर्ण स्थिति है. एक वीडियो में महिलाओं को विरोध करते हुए और सड़क पर धरना देते हुए और ‘राहुल गांधी जिंदाबाद’ के नारे लगाते हुए दिखाया गया है.

वीडियो में पुलिस उन्हें पीछे से पकड़ रही है जो लाठियों का इस्तेमाल बैरिकेड्स बनाने के लिए कर रही है. महिलाएं जैसे ही लाठी-बैरिकेड्स को पार करने की कोशिश करती हैं, वे नीचे गिर जाती हैं. फिर कुछ प्रदर्शनकारियों और पुलिस कर्मियों के बीच हाथापाई हो जाती है जो महिलाओं को नीचे धकेलते दिखते हैं.

Similar Posts