थाना इंचार्ज ने पहले महिला SI को मारी गोली, फिर कर लिया सुसाइड…वारदात को अंजाम देने के लिए भोपाल से छुट्टी लेकर पहुंचा था इंदौर

Indore

मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) के इंदौर में हैरान करने वाली घटना सामने आई है. पुलिस सवालों के कटघरे में खड़ी हो गई है. रीगल चौराहे पर स्थित सहायक कमिश्नर कार्यालय पर भोपाल थाना प्रभारी ने महिला सब इंस्पेक्टर को गोली मारकर खुद भी आत्महत्या कर ली. इस घटना में थाना प्रभारी की मौत हो (Thana Incharge Suicide) गई वहीं सब इंस्पेक्टर घायल हुई है. इंदौर के रीगल चौराहे पर स्थित एडिशनल कमिश्नर के ऑफिस परिसर में ही थाना प्रभारी हाकम सिंह पवार ने अपनी सरकारी पिस्तौल से पहले सब इंस्पेक्टर रंजना खेड़े पर फ़ायरिंग की और फिर उसी पिस्तौल से खुद पर गोली चला दी.

इस घटना में थाना प्रभारी हाकम सिंह की मौके पर ही मौत हो गई. वहीं घायल एसआई रंजना खेड़े का इलाज अस्पताल में चल रहा है. पूरे मामले को लेकर अधिकारियों का कहना है कि थाना प्रभारी और सब इंस्पेक्टर के बीच में कुछ विवाद हुआ था. इस विवाद के बाद यह घटनाक्रम हुआ है. दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग की बात भी कही जा रही है, लेकिन पुलिस की जांच के बाद भी मामला साफ हो सकेगा.

थाना इंचार्ज ने महिला SI को मारी गोली

थाना प्रभारी हाकम सिंह पहले खरगोन के माहेश्वर में और अभी भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में पदस्थ थे. 3 दिन की छुट्टी लेकर वह इंदौर पहुंचे थे. 2 दिनों से लगातार एसआई रंजना से उनकी मुलाकात हो रही थी. कल भी उनकी मुलाकात रंजना से हुई थी. आज दोनों की मुलाकात के बाद यह घटना घटित हो गई. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि रंजना पहले भी कई विवादों में घिर चुकी हैं. इन तमाम बातों को लेकर पुलिस की टीमें जानकारी जुटा रही है. गोलीकांड की घटना क्यों हुई और थाना प्रभारी ने किस वजह से गोली चलाई इन सवालों के जवाब के लिए पुलिस अब उनके मोबाइल फोन समेत अन्य सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही है.

लव-अफेयर के एंगल से भी जांच कर रही इंदौर पुलिस

आज हुई घटना के बाद एडिशनल कमिश्नर कार्यालय सवालों के घेरे में आ गया है. दरअसल कार्यालय के कुछ हिस्सों में सीसीटीवी कैमरे नहीं हैं. इस बात की तह तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है कि आखिर सब इंस्पेक्टर रंजना बघेल और थाना प्रभारी हुकम सिंह का क्या विवाद है. वरिष्ठ अधिकारी मामले की जांच में जुटे हुए हैं. जानकारी के मुताबिक घायल महिला एसआई रंजना पहले भी कई पुलिसकर्मियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज करवा चुकी हैं. अब आखिर ऐसा क्या हुआ कि थाना प्रभारी को गोली चलाने पर मजबूर होना पड़ा. हालांकि दोनों के बीच प्रेम प्रसंग का मामला बताया जा रहा है. पुलिस इस मामले की तह तक जाने की कोशिश कर रही है.

Similar Posts