तेलंगाना: मां-बेटे की कथित आत्महत्या के मामले में TRS नेता समेत छह गिरफ्तार, तेलंगाना सरकार के खिलाफ BJP करेगी प्रदर्शन

तेलंगाना में मां-बेटे की कथित आत्महत्या के मामले (Telangana Mother-son suicide case) में पुलिस ने टीआरएस नेता (TRS leader) समेत छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. तेलंगाना पुलिस ने बुधवार को इसकी जानकारी दी. बता दें कि संतोष (जो एक रियल एस्टेट कारोबारी था) और उसकी मां ने सात लोगों द्वारा कथित उत्पीड़न के बाद 16 अप्रैल को कामारेड्डी के एक लॉज में आत्महत्या कर ली थी. तेलंगाना पुलिस के मुताबिक, संतोष मेडक जिले के रामयमपेट का रहने वाला था. उन्होंने आत्महत्या के लिए टीआरएस के रामयमपेट नगर निगम के अध्यक्ष जितेंद्र गौड़ सहित सात लोगों को जिम्मेदार ठहराया था.

उन्होंने कहा कि सात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) के तहत मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने मंगलवार को गौड़ समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया. सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो और सुसाइड नोट में संतोष ने आरोप लगाया था कि रामयमपेट शहर के नगरपालिका अध्यक्ष (TRS) और एक पुलिसकर्मी सहित सात लोगों ने मां-बेटे को परेशान किया था. पुलिस ने कहा कि उसने जिन लोगों का नाम लिया था, उन्होंने कथित तौर पर उनके व्यवसाय को नुकसान पहुंचाया.

TRS के खिलाफ बीजेपी ने किया हमला तेज

उधर, उधर, बीजेपी ने मां-बेटे की कथित आत्महत्या को लेकर तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) नीत सरकार पर हमला तेज करते हुए मामले में कानूनी लड़ाई लड़ने के अलावा राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन से मुलाकात करने का फैसला किया. बीजेपी विधायक रघुनंदन राव ने कहा कि अगर राज्य पुलिस समुचित जवाब देने में विफल रहती है तो बीजेपी उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाएगी और यहां तक ​​कि इस घटना की केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) से जांच कराए जाने की भी मांग करेगी. इसके अलावा, बीजेपी विधायक एटाला राजेंदर और अन्य ने पिछले सप्ताह कामारेड्डी में उन मां-बेटे के परिजनों से मुलाकात की थी.

खबर अपडेट की जा रही है…

Similar Posts