जेट एयरवेज ने शुरू की दोबारा उड़ान भरने की तैयारी, पूर्व कैबिन क्रू को बुलाया

jet airways prepares to fly again calls former cabin crew to rejoin

जेट एयरवेज (Jet Airways) ने अपनी नियुक्तियां शुरू कर दी हैं. एयलाइन (Airline) ने अपने पूर्व कैबिन क्रू (Cabin Crew) के सदस्यों को एयरलाइन को दोबारा ज्वॉइन करने को कहा है. एयरलाइन के सीईओ संजीव कपूर ने ट्विटर पर कहा कि हमारी ऑपरेशनल नियुक्तियां शुरू हो गईं हैं. जेट के पूर्व क्रू को बुलाया गया है. इसके बाद आने वाले दिनों में पायलटों (Pilots) और इजीनियरों की नियुक्ति शुरू की जाएगी, जब वे एयरक्राफ्ट का खुलासा करेंगे. एयरलाइन के कैबिन क्रू सदस्यों के शुरुआती बैच में केवल पूर्व स्टाफ शामिल होगा.

अभी महिला क्रू को बुलाया गया

शुक्रवार को ट्विटर पर दिए विज्ञापन में एयरलाइन ने कहा कि घर की तरह कुछ भी नहीं है. वे जेट एयरवेज के पूर्व स्टाफ को वापस आने और हमें भारत की सबसे क्लासी एयरलाइन को दोबारा लॉन्च करने में हमारे साथ जुड़ें. अभी के लिए, वे केवल महिला क्रू को आमंत्रित कर रहे हैं. पुरुष क्रू की नियुक्ति आगे बढ़ने के साथ शुरू होगी.

20 मई को, एविएशन रेगुलेटर DGCA ने जेट एयरवेज को एक रिवैलिडेटेड एयर ऑपरेटर सर्टिफिकेट (AOC) दिया है, जिससे एयरलाइन को अपने कमर्शियल उड़ान के संचालन को दोबारा शुरू करने की इजाजत मिल गई है. एयरलाइन ने अपनी आखिरी उड़ान का संचालन 17 अप्रैल 2019 को किया था. एयरलाइन जुलाई-सितंबर तिमाही में अपने कमर्शियल उड़ानों के संचालन को दोबारा शुरू करने का विचार कर रहा है. हालांकि, जेट के रिवाइवल से कर्जदाताओं पर बुरा असर पड़ेगा, जिन्हें अपना एक केवल पांच फीसदी उधार ही वापस मिलेगा.

जेट एयरवेज का सफर

एविएशन सेक्टर के दिग्गज नाम संजीव कपूर ने 4 अप्रैल को एयरलाइन के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर के तौर पर पदभार संभाला था. एक बयान में, जेट एयरवेज के एक प्रवक्ता ने कहा था कि उनके पास एनसीआर में आधारित कैबिन क्रू सीमित संख्या में मौजूद हैं, जो बोइंग 737 एयरक्राफ्ट में प्रशिक्षित और क्वालिफाइड हैं. उन्होंने कहा कि वे अपनी उड़ानों को शुरू करने की तैयारी कर रहे हैं, जो जल्द होगा. उन्होंने बताया कि उनमें से कुछ ने पहले भी जेट एयरवेज के साथ काम किया है.

आपको बता दें कि 2019 में दीवालिया होने की वजह से एयरलाइंस ने अपनी सेवाएं बंद कर दी थीं. इससे पहले 17 अप्रैल 2019 को एयरलाइंस ने अपनी अंतिम उड़ान भरी थी. पिछले साल ही मुरारी लाल जालान और कॉलरॉक कंसोर्शियम ने नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल की निगरानी में हुई दिवाला और समाधान प्रक्रिया में जेट एयरवेज की बोली जीती थी.

Similar Posts