जहांगीरपुरी दंगे के मुख्य आरोपी की कुंडली: बंगाल से आया, कबाड़ का काम किया, 5 मंजिला मकान बनाया और ऐसा है अंसार का आपराधिक रिकॉर्ड

Who Is Mohammad Ansar Mastermind Of Jahangirpuri Riots

दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा (Jahangirpuri Violence) मामले में पुलिस अब तक 23 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. इनमें मोहम्मद अंसार भी शामिल है जिसे इस पूरे मामले का मुख्य अभियुक्त बताया गया है. दिल्ली पुलिस शुरू से मान रही है कि अंसार ने ही हिंसा भड़काई. फिलहाल इस मामले में सियासत की एंट्री हो चुकी है. भाजपा (BJP) और आप आमने-सामने हैं. जुबानी जंग जारी है. आप प्रवक्ता और विधायक आतिशी मार्लेना ने आरोप लगाया है कि भाजपा ने ही दिल्ली में हिंसा कराई है. उन्होंने अपने ट्विटर पर आरोपी की कई तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा, “जहांगीरपुरी दंगों का मुख्य आरोपी मोहम्मद अंसार (Mohammed Ansar) भाजपा का नेता है. उसने भाजपा की प्रत्याशी संगीता बजाज को चुनाव लड़वाने में प्रमुख भूमिका निभायी और भाजपा में सक्रिय भूमिका निभाता है. ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर मुख्य अभियुक्त कहा जाने वाला मोहम्मद अंसार कौन है?

कौन है मोहम्मद अंसार, कहां से आया है, करता क्या है और कैसा है आपराधिक रिकॉर्ड? जानिए, इन सवालों के जवाब…

मोहम्मद अंसार कौन है?

35 वर्षीय मोहम्मद अंसार जहांगीरपुरी के बी-ब्लॉक में रहता है. चौथी कक्षा तक पढ़ा है. पेशे से एक कबाड़ी है. पिता का नाम अलाउद्दीन है. अपनी पत्नी सकीना, 3 बेटियां और दो बेटे के साथ पांच मंजिला मकान में रहता है. अंसार मूलरूप से बंगाल का रहने वाला है और कई सालों पहले दिल्ली आया और जहांगीरपुरी में रहने लगा. पड़ोसियों का कहना है, पूरा परिवार कुछ साल पहले पहले यहां शिफ्ट हुआ है. इससे पहले वो जहांगीरपुरी के सी-ब्लॉक में रहता था.

ऐसा है आपराधिक रिकॉर्ड

दिल्ली पुलिस के रिकॉर्ड के मुताबिक, अंसार पर 2 मामले मारपीट के दर्ज हैं. गैंबलिंग एक्ट में 5 मामले दर्ज हो चुके हैं। कई बार गिरफ्तार किया जा चुका है. 2009 और 2018 में जेल भी जा चुका है। बीबीसी की रिपोर्ट में दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर लॉ एंड ऑर्डर दीपेन्द्र पाठक का कहना है, मोहम्मद अंसार पर पहले ही सात FIR दर्ज हैं, जिसमें से एक जुआ खेलने, एक सरकारी कर्मचारियों पर हमले से और एक FIR लोगों को नुकसान पहुंचाने से सम्बंधित है. पुलिस के रिकॉर्ड के मुताबिक वो हिस्ट्रीशीटर है. हमेशा ही स्थानीय पुलिस की निगरानी में रहा है. उन पर चल रहे सातों केस अभी ट्रायल की स्टेज पर हैं और वो जमानत पर है.

आप विधायक आतिशी ने यह ट्वीट करके भाजपा पर आरोप लगाया

अंसार के एक परिचित शेख़ बबलू का कहना है कि बच्चों की बेहतर परवरिश के लिए अंसार ने ब्लॉक सी छोड़ा. वह ज्यादा पढ़ा-लिखा नहीं है. कबाड़ का काम करता है. फुटपाथ बाजार में उसकी मोबाइल दुकान भी है और वह सी-ब्लॉक फुटपाथ बाजार का प्रेसिडेंट भी है.

Similar Posts