‘घर के दरवाजे खुले हैं तो जंगल-जंगल क्यों भटकना, गुलामी छोड़ सम्मान से फैसला लो’; राउत ने बागी शिवसैनिकों को मनाने के लिए खेला ‘स्वाभिमान कार्ड’

Shivsena Sanjay Raut Pti

शिवसेना के बागी विधायकों (Maharashtra Political Crisis) को पार्टी प्रमुख और सूबे के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुंबई आकर बातचीत का ऑफर दिया है. पार्टी के कद्दावर नेता और सांसद संजय राउत भी इस ऑफर को दोहरा चुके हैं. अब संजय राउत ने बागी शिवसैनिकों को स्वाभिमान याद दिलाते हुए वापस लौटने की एक और अपील की है. राउत ने गुरुवार शाम एक ट्वीट कर कहा, “बातचीत से रास्ते निकल सकते हैं. यहां बातचीत की गुंजाइश है. घर के दरवाजे खुले हुए हैं. तो आप जंगल-जंगल क्यों भटक रहे हैं. आइए गुलामी की जगह आत्म सम्मान से फैसला लेते हैं.” इसी के साथ संजय राउत ने ट्वीट के आखिर में लिखा “जय महाराष्ट्र.”

संजय राउत ने पहले दिया था MVA छोड़ने का ऑफर

इससे पहले भी संजय राउत बागी विधायकों को मनाने की अपील कर चुके हैं. तब राउत ने उन विधायकों को खुला ऑफर देते हुए कहा कि वो चाहें तो शिवसेना महा विकास आघाडी से बाहर आने के लिए भी तैयार है. हालांकि उन्होंने इसके लिए विधायकों के सामने 24 घंटे में मुंबई आकर सीएम उद्धव ठाकरे से मिलकर ये अपील करने की शर्त रखी थी. अब राउत ने शिवसेना के बागी विधायकों को स्वाभिमान याद दिलाते हुए वापस घर लौटने की अपील की है.

उद्धव ठाकरे ने भी की थी बागी शिवसैनिकों से अपील

संजय राउत से पहले सूबे के मुखिया उद्धव ठाकरे भी बागी विधायकों से वापस मुंबई आकर अपनी बात रखने की अपील कर चुके हैं. बुधवार शाम को उद्धव ने फेसबुक लाइव के जरिए संबोधन किया था. इस दौरान उन्होंने कहा कि बागी विधायकों में से कोई एक भी अगर उनसे मुख्यमंत्री पद छोड़ने की अपील करता है तो वो उस विधायक के हाथ में अपना इस्तीफा रखने के लिए तैयार हैं. हालांकि उद्धव ने ये भी कहा कि लेकिन बागी विधायक को मुंबई आकर उनसे बात करनी होगी. उन्होंने कहा कि अगर उन्हें कोई संकोच है तो वो फोन पर भी उद्धव से बात कर सकते हैं.

Similar Posts