गौतम अडानी ने इस बेटे को सौंपा एसीसी सीमेंट कारोबार, जानिए क्या है प्लान

Adani Cement Business : गौतम अडानी सीमेंट के कारोबार में वरिष्ठ प्रोफेशनल्स को भी उतारने का प्लान बना रहे हैं.

Adani Cement Business : गौतम अडानी ने 10.5 अरब डॉलर में दो दिग्गज कंपनी अंबुजा सीमेंट्स (Ambuja Cement) और एसीसी (ACC) लिमिटेड का अधिग्रहण कर लिया है और उसका संचालन करने की जिम्मेदारी अपने 35 वर्षीय बड़े बेटे करण अडानी को दे दी है. बता दें कि ये दोनों कंपनियां सीमेंट निर्माण से जुड़ी हैं. बता दें कि करण अडानी फिलहाल अडानी ग्रुप का पोर्ट (बंदरगाह) का कारोबार देखेते हैं. वे अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन के सीईओ हैं. सीमेंट की दो बड़ी कंपनियों के अधिग्रहण के बाद गौतम अडानी ने अंबुजा सीमेंट के चेयरमैन की जिम्मेदारी संभाली है जबकि एससीसी की जिम्मेदारी उन्होंने अपने बड़े बेटे करण अडानी (Karan Adani) को सौंपी है.

बता दें कि एसीसी में कभी टाटा ग्रुप की भी हिस्सेदारी थी लेकिन 1999 में उसने अपनी हिस्सेदारी अंबुजा सीमेंट्स को बेच दी थी. अडानी ग्रुप हाल ही में टाटा ग्रुप को पछाड़कर देश का सबसे मूल्यवान बिजनेस ग्रुप भी बन गया है. एसीसी का रेवेन्यू 16,151 करोड़ रुपये का है. करण अडानी ऐसे समय इसकी एसीसी सीमेंट्स की कमान संभालने जा रहे हैं, अब सीमेंट सेक्टर में काफी उथलपुथल मचने की उम्मीद की जा रही है.

दूसरे स्थान पर रहेगा अडानी ग्रुप

सूत्रों के अनुसार सीमेंट के कारोबार में अपने बेटे को उतारने के अलावा गौतम अडानी इस बिजनेस में वरिष्ठ प्रोफेशनल्स को भी उतारने का प्लान बना रहे हैं. बता दें कि अडानी ग्रुप ने अंबुजा सीमेंट्स (Ambuja Cement) और एसीसी (ACC) लिमिटेड के अधिग्रहण को पूरा कर लिया है. सीमेंट कारोबार की दो दिग्गज कंपनियों का अधिग्रहण करने के बाद अडानी ग्रुप सीमेंट निर्माण के मामले में देश की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी होगी. पहले नंबर पर आदित्य बिड़ला ग्रुप की अल्ट्राटेक सीमेंट है.

करण ने पोर्ट्स कारोबार का किया विस्तार

ये भी पढ़ें



गौतम अडानी के बड़े बेटे करण अडानी वर्तमान में 15,934 करोड़ रुपये के पोर्ट कारोबार की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं. जहां सीईओ के पद पर उनकी नियुक्ति जनवरी 2016 में की गई थी. इस पर रहते हुए उन्होंने कंपनी को तेजी से विस्तार दिया है. माना जा रहा है कि अडानी ग्रुप में शामिल होने के बाद अंबुजा और एसीसी सीमेंट्स दोनों को अडानी इन्फास्ट्रक्चर प्लेटफॉर्म के साथ तालमेल से लाभ पहुंचेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.