गिनीज बुक में नाम, मैराथन रेस के दौरान चली गई कोल्हापुर के इस खिलाड़ी की जान

महाराष्ट्र की सातारा मैराथन रेस में भाग लेते वक्त गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवा चुके रनर राज क्रांतिलाल पटेल चक्कर खाकर गिर पड़े और उनकी मौत हो गई.

उन्हें अभी बहुत कुछ हासिल करना था. लेकिन जिंदगी ने धोखा दे दिया. महाराष्ट्र के कोल्हापुर के एक धावक की मैराथन रेस में दौड़ते वक्त ही अचानक जान चली गई. दौड़ते-दौड़ते चक्कर खाकर वे गिरे तो फिर नहीं उठे. दौड़ने में माहिरी ऐसी कि गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में उनका नाम दर्ज है. नेशनल टेबल टेनिस भी खेल चुके थे. जिस मैराथन रेस में वे भाग ले रहे थे, वो भी उनकी जीत के करीब थी, लेकिन जिंदगी ने साथ नहीं दिया. इस तरह अचानक जिस खिलाड़ी की दौड़ते वक्त मौत हो गई है, उनका नाम राज क्रांतिलाल पटेल है.

महाराष्ट्र के सातारा जिले में हिल हाफ मेराथन रेस का आयोजन किया गया था. इसी में राज क्रांतिलाल पटेल हिस्सा ले रहे थे, तभी यह हादसा हुआ. उन्होंने कोल्हापुर से नेशनल टेबिल टेनिस भी खेला हुआ था.

मौत की वजह अनजान, कुछ पता नहीं चल पा रहा, कैसे गई जान?

राज की मौत कैसे हुई, इस बारे में अब तक कुछ पता नहीं चल पाया है.बस हार्ट अटैक की आशंका जताई गई है. राज के साथ ही तीन और खिलाड़ी घायल हैं. इस मैराथन रेस में 7 हजार से ज्यादा खिलाड़ियों ने भाग लिया था. मैराथन रेस दौड़ते वक्त राज को अचानक चक्कर आया और वे गिर पड़े. उनके साथ दौड़ रहे धावक ने उन्हें उठाया और उन्हें पहले रनिंग ट्रैक से साइड में लाकर बैठाया. इसके बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया.

खिलाड़ी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया

अस्पताल में डॉक्टरों ने चेकअप कर उन्हें मृत घोषित कर दिया. राज के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की असली वजह सामने आ सकेगी.

मंजिल के करीब पहुंच कर, पहुंच गए आखिरी मंजिल तक

इस बार महाराष्ट्र में आयोजित किए गए सातारा मैराथन में बड़ी संख्या में धावकों ने भाग लिया. रनिंग ट्रैक पर जगह-जगह स्वास्थ्य से जुड़ी सेवाएं तैनात की गई थीं. राज पटेल अपनी मंजिल के बेहद करीब आ चुके थे. वे बस अपनी मंजिल तक पहुंचने ही वाले थे. 100 मीटर का अंतर बाकी रह गया था. बस घोषणा होने वाली थी कि वे जमीन पर गिर पड़े.

ये भी पढ़ें



इसके बाद तुरंत उन्हें संबंधित मैराथन रेस के मेडिकल पार्टनर के यशवंत हॉस्पिटल तक पहुंचाया गया. लेकिन इससे पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी. डॉक्टरों ने उनका चेकअप कर उन्हें मृत घोषित कर दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.