कैंसर की जड़ हैं ये कुकिंग ऑयल, आज ही इनमें बनाएं दूरी!

Cancer

Health Tips In Hindi: अपने स्वास्थ के प्रति हम सभी को सचेत रहना चाहिए. हमारे कुछ खाने की चीजों से कैंसर (Cancer) होने का डर होता है. वैसे भी हम जो भी खाते हैं उसका सीधा असर हमारे स्वास्थ (Healthy Life) पर ही होता है. कई बार ऐसा भी होता है, हम जो खा रहे हैं होते हैं, उसको लेकर पता ही नहीं होता है, कि वो हमारे लिए लाभदायक है कि नुकसानदायक है. अनजाने में इस खाने से हम बीमारी को दावत दे देते हैं. ऐसी ही एक बड़ी बीमारी है कैंसर. अगर वक्त रहते कैंसर (Cancer Patient) के बारे में पता ना लगे तो व्यक्ति की जान तक जा सकती है.

वैसे तो कैंसर होने के कई अहम कारण हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं जो कुकिंग ऑयल हम यूज कर रहे उससे भी कैंसर हो सकता है. आइए हम आज आपको बताते हैं कि वो कौन-कौन सा कुकिंग ऑयल है जो कैंसर कोशिकाओं को जन्म दे सकता है. आजकल हर कोई फ्राइड और डीप फ्राई फूड को खाना पसंद करता है. लेकिन आपको बता दें कि ऑयल हमारे शरीर में पीएच संतुलन को बिगाड़ देता है और लीवर, पाचन अल्सर, मोटापा,कोलेस्ट्रॉल, कब्ज जैसी समस्या हो जाती हैं.

कौन-कौन से तेल से है कैंसर का ज्यादा जोखिम

माना जाता है कि गर्म होने पर कॉर्न, सनफ्लावर, पाल्म और सोयाबीन के तेल एल्डिहाइड नामक रसायन को छोड़ते हैं. ये ऐसे खतरनाक तत्व होते हैं, जो कि विभिन्न कैंसर से जुड़े हुए होते हैं.इनसे कैंसर बढ़ने का खतरा हो सकता है.

तेल से कैसे बढ़ता है कैंसर

दरअसल तेल में पॉलीअनसेचुरेटेड फैट अधिक मात्रा में पाया जाता है.किसी भी तेल को गर्म करने पर यह एल्डिहाइड में टूट जाता , जिस कारण से जब तेल गर्म करते हैं, तो इससे गंध आती है. वैसे भी गर्म तेल खाने से स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है.

वेजिटेबल ऑयल में कैंसर वाले तत्व

आपको बता दें कि डीमोनफोर्ट यूनिवर्सिटी द्वारा किए गए शोध में सामने आया है कि वनस्पति तेलों में तले हुए खाने में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) द्वारा अनुशंसित दैनिक मात्रा की तुलना में 200 गुना अधिक एल्डिहाइड पाया जाता है.

ओलिव ऑयल से कैंसर का कम खतरा होता है

जानने योग्य बात यह है कि शोध में ये पाया गया है कि ओलिव ऑयल यानी कि जैतून के तेल से खतरा कम होता है, इसमें चरबी और मक्खन में एल्डीहाइड की मात्रा बहुत कम होती है.इस कारण से इस तेल के यूज से कैंसर का खतरा कम होता है.

(डिस्क्लेमर: यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है, ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें)

Similar Posts