केंद्रीय एजेंसियों के खिलाफ ममता लाएंगी निंदा प्रस्ताव, कल विधानसभा में होगा पेश

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी की सरकार केंद्रीय एजेंसियों पर अति सक्रियता का आरोप लगाते हुए सोमवार को विधानसभा में निंदा प्रस्ताव पेश करेगी. बीजेपी ने इस प्रस्ताव का विरोध करने की घोषणा की है.

फोटोः पश्चिम बंगाल विधानसभा.

Image Credit source: फाइल फोटो

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी केंद्रीय एजेंसियों की सक्रियता के खिलाफ लगातार आवाज उठाती रही हैं. तृणमूल कांग्रेस सोमवार को राज्य विधानसभा में केंद्रीय जांच एजेंसी की अति सक्रियता को लेकर प्रस्ताव लाने जा रही है. तृणमूल कांग्रेस का आरोप है कि राजनीतिक उद्देश्यों के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल किया जा रहा है. इस बार विधानसभा के अंदर केंद्रीय एजेंसियों की सक्रियता को लेकर तृणमूल कांग्रेस निंदा प्रस्ताव ला रही है. सोमवार को विधानसभा में इस प्रस्ताव को पढ़ने के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुद मौजूद रह सकती हैं.

बता दें कि शिक्षक भर्ती घोटाला, कोयला घोटाला, पशु तस्करी जैसे कई मामलों की सीबीआई और ईडी जांच कर रही हैं. पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी, तृणमूल कांग्रेस के नेता अनुब्रत मंडल सहित कई को गिरफ्तार किया जा चुका है.

बीजेपी ने एजेंसियों के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पर जताई है आपत्ति

कोयला तस्करी मामले में तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और सांसद अभिषेक बनर्जी, उनकी पत्नी रुचिरा बनर्जी और उनकी साली मेनका गंभीर से केंद्रीय एजेंसियां पूछताछ कर चुकी है. इस मुद्दे पर भाजपा खेमे की ओर से पहले ही आपत्ति जताई जा चुकी है. राज्य के विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी मौजूदा सत्र के दौरान ही एक प्रस्ताव लाना चाहते थे, जिसमें भ्रष्टाचार पर चर्चा की मांग की गई है, लेकिन विधानसभा अध्यक्ष बिमान बनर्जी ने भ्रष्टाचार पर चर्चा के प्रस्ताव को खारिज कर दिया. ऐसे में भाजपा नेताओं का कहना है कि वे भ्रष्टाचार के मुद्दे पर चर्चा करना चाहते हैं. ईडी-सीबीआई ने भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए कदम आगे बढ़ाया है, लेकिन उस मुद्दे को दरकिनार करते हुए सत्ता पक्ष ईडी-सीबीआई को सक्रिय होने के खिलाफ निंदा प्रस्ताव ला रहा है.

ये भी पढ़ें



केंद्रीय एजेंसियों के खिलाफ फिर से मोर्चा खोल सकती हैं ममता बनर्जी

कुल मिलाकर इस प्रस्ताव पर कल (सोमवार) राजनीतिक गलियारों की नजर है, क्योंकि इस प्रस्ताव पर विधानसभा में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी हिस्सा ले सकती हैं. वहीं, राज्य में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी भी विधानसभा में होंगे. कुल मिलाकर सोमवार का दिन विधानसभा के लिए बेहद अहम दिन होने वाला है. इसके अलावा कल राज्य कैबिनेट की बैठक भी है. राज्य की राजनीति के जानकार भी उस पर नजर बनाए हुए हैं. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कल कुछ समय के लिए राज्य विधानसभा में रहने का कार्यक्रम है. ऐसे में राजनीतिक गलियारा में चर्चा है कि सीएम ममता बनर्जी कल फिर से केंद्रीय एजेंसियों के खिलाफ मोर्चा खोल सकती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.