कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार हुए ईडी ऑफिस में पेश, भाई बोले- बीजेपी है असली स्क्रिप्ट राइटर

कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार, मनी लॉन्डरिंग के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के ऑफिस पहुंचे हैं. जानकारी के अनुसार उन्हें 5 दिन पहले ही नोटिस भेजा गया था.

कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार

कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार, मनी लॉन्डरिंग के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के ऑफिस पहुंचे हैं. जानकारी के अनुसार उन्हें 5 दिन पहले ही नोटिस भेजा गया था. उन्होंने 15 सितंबर को ट्वीट में कहा था कि कर्नाटक में जब विधानसभा सत्र चल रहा है इस दौरान मुझे दिल्ली बुलाया गया है. उन्होंने इस दौरान यह भी कहा था कि उन्हें पता नहीं है कि ईडी ने उन्हें क्यों बुलाया है.

कांग्रेस के 60 वर्षीय नेता शिवकुमार दोपहर करीब 12 बजे एपीजे अब्दुल कलाम रोड पर संघीय एजेंसी के कार्यालय पहुंचे और उन्हें ईडी कार्यालय में प्रवेश करते हुए देखा गया. शिवकुमार के साथ कुछ अन्य लोग भी दिखाई दिए हैं. ईडी ने पिछले सप्ताह शिवकुमार को सम्मन भेजा था. कांग्रेस नेता ने तब कहा था कि उन्हें मालूम नहीं है कि ईडी ने उन्हें किस मामले में पेश होने के लिए कहा है.

ऐसा माना जा रहा है कि ईडी ने केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक संपत्ति अर्जित करने के आरोप में शिवकुमार के खिलाफ दर्ज एक मामले पर संज्ञान लेने के बाद उन्हें ताजा सम्मन भेजा था.

कर्तव्य निभाने में डाल रहे बाधा

शिवकुमार ने तब ट्वीट किया था, भारत जोड़ो यात्रा और विधानसभा सत्र के बीच में उन्होंने फिर मुझे ईडी के समक्ष पेश होने का सम्मन भेजा है. मैं सहयोग के लिए तैयार हूं लेकिन इस सम्मन का वक्त और जिस उत्पीड़न से मैं गुजर रहा हूं, वह मेरे संवैधानिक और राजनीतिक कर्तव्य निभाने की राह में आड़े आ रहे हैं.

ईडी ने धन शोधन के एक अन्य मामले में तीन सितंबर 2019 को शिवकुमार को गिरफ्तार किया था और दिल्ली उच्च न्यायालय ने उसी साल अक्टूबर में उन्हें जमानत दे दी थी. एजेंसी ने इस साल मई में मामले में उनके और अन्य लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था.

ये भी पढ़ें



ईडी ऑफिस है बीजेपी ऑफिस

वहीं डीके शिवकुमार के भाई ने डीके सुरेश ने कहा, ‘मुझे नहीं पता किस मामले में उन्हें समन भेजा गया है. यह एक राजनीतिक प्रतिशोध है. हम चुनाव से केवल 6 महीने दूर हैं. वह विपक्ष को धमकाना चाहते हैं.’ इस दौरान उन्होंने ईडी के गलत इस्तेमाल को लेकर केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘ईडी ऑफिस दरअसल बीजेपी ऑफिस है. बीजेपी स्क्रिप्ट राइटर है और उसका स्क्रिप्ट का को ईडी एग्जक्यूट करती है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published.