कल्याणी नदी के “जीर्णोद्धार” के लिए जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने उठाया फावड़ा, बोले-टोटी के जरिए पहुंचाना है घर-घर शुद्ध जल

Swatantra Dev Singh

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव जिले में उत्तर प्रदेश सरकार के जलशक्ति मंत्री ने हरदोई – उन्नाव के किसानों के लिए लाइफ लाइन कही जाने वाली कल्याणी नदी जीर्णोद्धार कर फावड़ा चलाकर शुभारंभ किया. इस दौरान DM उन्नाव व CDO ने भी साथ में फावड़ा चलाया. जहां भू माफिया के कब्जे व अतिक्रमण से कल्याणी नदी का अस्तित्व खत्म होता जा रहा था. ऐसे में CDO उन्नाव दिव्यांशु पटेल के प्रयासों से नदी के अस्तित्व को वापस लौटने की उम्मीद किसानों में जग गई है. इस दौरान जलशक्ति मंत्री ने कल्याणी नदी के जीर्णोद्धार कार्य के लिए सरकार की तरफ से हर संभव मदद की बात कही है.

वहीं, जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने बुखार का जिक्र करते हुए कहा की अगर कोई व्यक्ति नीम के 5 पत्ते तुलसी के 2 पत्ते काली मिर्च कोई सुबह-सुबह चबा ले बड़ा से बड़ा बुखार उसे छू नहीं सकता. साथ ही उन्होंने बताया कि गांव में स्वच्छता रहे तो बीमारी कभी छू नहीं सकती. इस दौरान प्रदेश में सीएम योगी आदित्तनाथ (CM Yogi Adityanath) कर रहे हैं और देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेतृत्व कर रहे हैं. यह सभी समस्याओं के समाधान के लिए संघर्ष कर रहे हैं.

स्वतंत्र देव सिंह ने गांधी परिवार पर बोला हमला

यूपी सरकार में जलशक्ति मंत्री व बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) आज बांगरमऊ पहुंचे. जहां पर उन्होंने कल्याणी नदी के जीर्णोद्धार कार्यक्रम की पूजा अर्चना की. इसके बाद जल शक्ति मंत्री ने डीएम उन्नाव रविंद्र कुमार, सीडीओ दिव्यांशु पटेल व बांगरमऊ विधायक श्रीकांत कटियार के साथ फावड़ा चलाकर जीर्णोद्धार कार्य का शुभारंभ किया. मंच से संबोधन में जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने गांधी परिवार पर हमला बोलते हुए कहा कि गरीबी का उसको एहसास हो जब बड़े खानदान में पैदा होता है. नेहरू परिवार में पैदा होता है ऐसे किसी जाति संगठन परिवार में पैदा होता है उसे गरीबी का दर्द नहीं पता होता है. साधारण परिवार में जन्म लेने वाला बेटा मातृभूमि से प्यार करता है. मातृभूमि से प्यार करते हुए देश का प्रधान सेवक बनता है. जोकि एक गरीब की जरूरतों को समझता है.

2024 तक सभी सभी को स्वच्छ जल पहुंचाना हैं घर-घर

इस दौरान स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा की 2024 तक सभी को स्वच्छ जल देना है और टोटी के जरिए शुद्ध जल घर-घर पहुंचाना है. स्वतंत्र देव सिंह ने अपने मन की बात बोलते हुए कहा की पहले कुएं रहते थे, गांव में तालाब रहते थे, पानी सुरक्षित कैसे रहता था. जलशक्ति मंत्री ने कहा पानी है तो जीवन है, घर का पानी घर में, खेत का पानी खेत में कर जल संचयन कर सकते हैं. ऐसे में हम अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए जल बचा सकते हैं. वहीं, कार्यक्रम के बाद मीडिया से बात करते हुए जलशक्ति मंत्री ने कहा की समाज के सहयोग से सरकार की योजना है कि इन सब नदियों का जीर्णोद्धार और अमृत सरोवर तालाब का निर्माण कराना है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की इच्छा है कि अमृत सरोवर के माध्यम से जल संचय किया जाएगा. जिससे कि घर का पानी घर में, खेत का पानी खेत में होगा. ताकि स्वच्छ जल से लोग स्वस्थ रहेंगे.

Similar Posts