‘कई महिला आयोग अब Kitty Party कार्यालय बने’, इसलिए CU मामले पर भड़कीं स्वाति मालीवाल

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली छात्राओं का आपत्तिजनक वीडियो सोशल मीडिया पर लिक कर दिया गया है, जिसके बाद ऐसा कहा जा रहा है कि कुछ छात्राओं ने सुसाइड करने की कोशिश की है.

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल.

Image Credit source: PTI (File)

पंजाब की मशहूर चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में छात्राओं का एमएमएस वायरल होने का मुद्दा गरमा गया है. लड़कियों के आपत्तिजनक वीडियो लीक होने के बाद अब वार-प्रतिवार का दौर शुरू हो गया है. इस पूरे मामले पर पंजाब राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष मनीषा गुलाटी रविवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस संवेदनशील मुद्दे पर बोलते हुए वह कई बार हंसी, जिसपर दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने अब जमकर हमला बोला है. मालीवाल ने मनीषा गुलाटी पर निशाना साधते हुए कहा कि देश के ज्यादातर महिला आयोग बस किटी पार्टी कार्यालय बनकर रह गए हैं.

स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर मनीषा गुलाटी पर निशाना साधते हुए लिखा, ‘पंजाब महिला आयोग की अध्यक्ष चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी जैसे गंभीर मामले की जानकारी देते हुए हस रही है? साथ में वो कह रही हैं कि लड़कियों की कोई वीडियो नहीं बनी.’ उन्होंने आगे कहा, ‘महिला आयोग महिलाओं के हित के लिए होते हैं. अफसोस देश के अधिकतर महिला आयोग बस किटी पार्टी कार्यालय बनकर रह गए हैं.’

‘किसी बच्ची ने नहीं की आत्महत्या ‘

गौरतलब है कि चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली छात्राओं का आपत्तिजनक वीडियो सोशल मीडिया पर लिक कर दिया गया है, जिसके बाद ऐसा कहा जा रहा है कि कुछ छात्राओं ने सुसाइड करने की कोशिश की. इस पूरे मामले पर मनीषा गुलाटी ने कहा कि “इस मामले में झूठ फैलाया गया है कि कुछ बच्चियों ने आत्महत्या कर ली है. ये सब अफवाह है. ना किसी बच्ची ने आत्महत्या की है और ना ही कोई अस्पताल में भर्ती है.’

उन्होंने कहा, ‘जिस लड़की ने ये वीडियो वायरल किया. उस पर अधिकारियों ने तत्काल कार्रवाई करते हुए धारा 354 (C) आईटी के तहत मामला दर्ज कर लिया है. उसपर कड़ी कार्रवाई होगी. अगर ये सब पहले से चल रहा था तो मैं आपको आश्वासन देती हूं कि ये गहन जांच का विषय है और इस मामले पर मेरी नजर रहेगी.’ वीडियो लीक होने के मामले में विश्वविद्यालय के कई छात्रों ने बीती रात जमकर विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारी छात्रों ने इस घटना से संबंधित लोगों की जान जाने और घायल होने का आरोप लगाया है.

ये भी पढ़ें



क्या बोले एसएसपी?

इस पूरी घटना पर मोहाली के एसएसपी विवेक शील सोनी ने कहा, ‘ऐसा कहा जा रहा है कि वायरल वीडियो के अलावा और भी कुछ वीडियो बनाए गए हैं. ये बात सरासर गलत है. हमारी जांच में ऐसा कोई दूसरा वीडियो सामने नहीं आया है. हमारी तरफ से FIR दर्ज कर ली गई है. एक छात्रा को भी गिरफ्तार किया गया है.’ उन्होंने कहा, ‘हम इस मामले में गहनता से जांच कर रहे हैं. हमारे पास जो भी जानकारी और वीडियो है उसकी फोरेंसिक जांच करवा रहे हैं. हमने अभी तक जो जांच की है, उसमें यह बात साफ आती है कि जो वीडियो है वो उसकी खुद की है. उसके अलावा किसी और की कोई वीडियो नहीं है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published.