‘उद्धव ठाकरे की हमदर्दी हासिल करने की कोशिश कर रहे कैलाश पाटिल’, MLA तानाजी सावंत बोले-एकनाथ शिंदे ने किसी को नहीं किया मजबूर

Tana

महाराष्ट्र (Maharashtra Political Crisis) में चल रहे सियासी घटनाक्रम के बीच शिवसेना के बागी विधायक तानाजी सावंत ने कहा है कि विधायक कैलाश पाटिल कहानियां गढ़कर ‘मातोश्री’ में उद्धव ठाकरे की हमदर्दी हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं. वह मीडिया के सामने झूठ बोल रहे हैं. तानाजी सावंतो ने कहा है कि हमने उनके सूरत से मुंबई लौटने की व्यवस्था की थी.उन्होंने साफ किया कि एकनाथ शिंदे ने किसी विधायक को अपने साथ आने के लिए मजबूर नहीं किया.

महाराष्ट्र में जारी संकट के बीच गुरुवार को शिवसेना के विधायक कैलाश पाटिल ने दावा किया है कि उन लोगों को फंसाकर सूरत ले जाया गया था. उन्होंने कहा कि उन्होंने वहां से भागने के लिए एक किमी दौड़ लगाई थी. उनके इन आरोपों को बागी विधायक तानाजी सावंत ने खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा है कि कैलाश पाटिल मनगढ़ंत कहानी के जरिये उद्धव ठाकरे का भरोसा जीतना चाहते हैं. वह मीडिया के सामने झूठ बोल रहे हैं. एकनाथ शिंदे ने किसी भी विधायक पर कोई दबाव नहीं बनाया है.

कैलाश पाटिल के दावे पर तानाजी सावंत का जवाब

बता दें कि इससे पहले शिवसेना विधायक नितिन देशमुख ने उन्हें जबरन सूरत ले जाने का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा था कि उनको जबरन सूरत ले जाया गया, उन्होंने भागने की कोशिश की लेकिन सूरत पुलिस ने पकड़ लिया. उनसे दिल का दौरा पड़ने की बात डॉक्टर्स ने कही. साथ ही शिवसेना विधायक ने कहा कि उन पर पुलिस का सख्त पहरा था. उनके इस बयान के बाद बागी नेता एकनाथ शिंदे खेमे ने अन्य बागी विधायकों के साथ नितिन देशमुख की पहले की तस्वीरें जारी की थी. इस तस्वीर में वह काफी खुश नजर आ रहे हैं.

गुरुवार को शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा कि बातचीत से रास्ता निकल सकता है. उन्होंने कहा कि मामले पर चर्चा हो सकती है. घर के दरवाजे बातचीत के लिए खुले हुए हैं. जंगल क्यों भटकना है? आइए गुलामी की बजाय स्वाभिमान से निर्णय लें. जय महाराष्ट्र!.

खबर अपडेट हो रही है…

Similar Posts