ईरान में महसा अमिनी की मौत पर आक्रोश, महिलाओं ने जलाए Hijab-काटे बाल, VIDEO

अमिनी की मौत के बाद महिलाएं अब अलग-अलग तरह से प्रोटेस्ट कर रही हैं. कुछ महिलाएं अपने बाल काटकर तो कुछ हिजाब को जलाकर प्रदर्शन कर रही हैं.

अमिनी की मौत से महिलाओं में रोष.

ईरान में 22 साल की महसा अमिनी की मौत पर बवाल मचा हुआ है. सड़कों पर महिलाएं बड़ी संख्या में युवती की मौत के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं. वह देश के सख्त ‘ड्रेस कोड’ के खिलाफ अलग-अलग तरह से प्रोटेस्ट कर रही हैं. महसा अमिनी को कुछ दिनों पहले पुलिस ने अपनी हिरासत में लिया था. पुलिस ने आरोप लगाया था कि उन्होंने देश के ‘ड्रेस कोड’ कानून का उल्लंघन किया था, इसलिए उन्हें हिरासत में लिया गया, लेकिन पुलिस कस्टडी में जाने के 3-4 दिनों के बाद युवती की मौत हो गई. अमिनी की मौत के बाद से पुलिस पर लगातार यह आरोप लग रहे हैं कि उसने युवती को टॉर्चर किया, जिस वजह से उनकी मौत गई. जबकि पुलिस का कहना है कि महसा को हार्ट अटैक आया था.

महसा अमिनी की मौत ने पूरे तेहरान को सड़क पर उतरने को मजबूर कर दिया है. बड़ी संख्या में महिलाएं देश के ‘ड्रेस कोड’ कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं. दरअसल, ईरान में महिलाओं के लिए सार्वजनिक स्थानों पर सिर ढकना यानी हिजाब पहनना जरूरी है. अगर वह ऐसा नहीं करतीं, तो कानून के तहत सजा के दायरे में आती हैं. महसा अमिनी ने देश के इसी नियम का उल्लंघन किया था. उन्होंने हिजाब नहीं पहना हुआ था, जिसके बाद तेहरान की मोरेलिटी पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया था. लेकिन कुछ ही दिनों बाद संदिग्ध परिस्थिती में हुई उनकी मौत ने सवालों की झड़ियां लगा दीं.

हिजाब जलाकर प्रदर्शन कर रहीं महिलाएं

अमिनी की मौत के बाद महिलाएं अब अलग-अलग तरह से प्रोटेस्ट कर रही हैं. कुछ महिलाएं अपने बाल काटकर तो कुछ हिजाब को जलाकर प्रदर्शन कर रही हैं. ईरान की एक जर्नलिस्ट और एक्टिविस्ट मसीह अलीनेजाद ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर महिला द्वारा बाल काटते हुए एक वीडियो शेयर किया और लिखा, ‘हिजाब पुलिस (मोरेलिटी पुलिस) द्वारा महसा अमिनी की हत्या के विरोध में ईरान की महिलाएं अपने बाल काटकर और हिजाब जलाकर अपना गुस्सा दिखा रही हैं.’ उन्होंने आगे लिखा, ‘7 साल की उम्र से अगर लड़कियां अपने बालों को नहीं ढकेंगी तो स्कूल नहीं जा सकेंगी और नौकरी भी नहीं पा सकेंगी. हम इस लैंगिक भेदभाव से तंग आ चुके हैं.’

ये भी पढ़ें



अमिनी की मौत से महिलाओं में रोष

प्रदर्शनकारी महिलाओं का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वह हिजाब को उतारकर हवा में लहराती नजर आ रही हैं. अमिनी की मौत से महिलाओं में खासा रोष है. वह देश से ड्रेस कोड के इस सख्त कानून के अस्तित्व को खत्म करना चाहती हैं. महसा को इंसाफ दिलाने के लिए लोग सड़कों पर मौजूद हैं और लगातार ‘तनाशाह मुर्दाबाद’ के नारे लगा रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.