आज होगा क्वीन एलिजाबेथ का अंतिम संस्कार, शाही अंदाज में होगी विदाई, जाने पूरा कार्यक्रम

Queen Elizabeth last rites

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय को आज पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जाएगी. उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए दुनियाभर से बड़े-बड़े दिग्गज नेताओं और गणमान्य लोग पहुंच चुके हैं. न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, अंतिम संस्कार सुबह 11 बजे (लंदन टाइम) से शुरू होगा. वहीं, भारतीय समय के अनुसार यह समय शाम 4:30 बजे का होगा. महारानी का अंतिम संस्कार का कार्यक्रम वेस्टमिंस्टर ऐबी में आयोजित किया जाएगा. बकिंघम पैलेस के अधिकारियों की मानें तो ‘द रॉयल हॉस्पिटल चेल्सी’ वेस्टमिंस्टर ऐबी के लिए रवाना होने से पहले राष्ट्राध्यक्षों एवं विदेशी राजघरानों की एक सभा की मेजबानी करेगा.

न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, यूके मीडिया की कुछ रिपोर्ट यह दावा कर रही हैं कि दुनिया के कई नेता कम्युनिटी ट्रांसपोर्टेशन से खुश नहीं हैं. क्योंकि उन्होंने ऐसी अफवाहें सुनी हैं कि उन्हें अपनी कार ड्राइव करके महारानी के अंतिम संस्कार में जाना होगा. एलिजाबेथ के पार्थिव शरीर को अभी वेस्टमिंस्टर हॉल में रखा गया है, ताकि लोग अंतिम बार उनके दर्शन कर सकें. लंदन के समय के मुताबिक, 19 सितंबर को सुबह 6 बजे के बाद वेस्टमिंस्टर हॉल के दरवाज़ें अंतिम दर्शन के लिए बंद कर दिए जाएंगे. इसके बाद रानी के पार्थिव शरीर को वेस्टमिंस्टर ऐबी ले जाने की तैयारी शुरू कर दी जाएगी. न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, वेस्टमिंस्टर एबी उन लोगों के लिए सुबह 8 बजे (लंदन टाइम) से खुल जाएगा, जिन्हें अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए निमंत्रण भेजा गया है.

जुलूस के साथ निकलेगा ताबूत

न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि एलिजाबेथ के ताबूत को वेस्टमिंस्टर हॉल से ऐबी तक एक जुलूस के जरिए ले जाया जाएगा. इस दौरान रास्ते में रॉयल नेवी और रॉयल मरीन के सैनिक भी तैनात रहेंगे. स्कॉटिश और आयरिश रेजिमेंट के पाइप और ड्रम समेत लगभग 200 संगीतकार इस जुलूस का नेतृत्व करेंगे. किंग चार्ल्स III और रॉयल फैमिली के बाकी मेंबर्स गाड़ी में सवार होकर ऐबी पहुंचेंगे. महारानी के अंतिम संस्कार की प्रक्रिया को वेस्टमिंस्टर के डीन अंजाम देंगे. ‘रीडिंग’ का काम राष्ट्रमंडल महासचिव पेट्रीसिया स्कॉटलैंड और प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस करेंगी.

पूरे ब्रिटेन में होगा दो मिनट का मौन

अंतिम संस्कार के आखिर में पूरे ब्रिटेन में दो मिनट का मौन रखा जाएगा. जबकि अंतिम संस्कार दोपहर 12 बजे (लंदन टाइम) के आसपास कर दिया जाएगा. इसके बाद ताबूत का एक जुलूस वेलिंगटन आर्क तक जाएगा, जिसके बाद इसे विंडसर ले जाया जाएगा. महारानी का ताबूत विंडसर पहुंचने के बाद ‘रथ सेंट जॉर्ज चैपल’ की यात्रा पर नए जुलूस में शामिल होगा. यहां एक कमिटमेंट सर्विस आयोजित की जाएगी. रानी के स्टाफ में शामिल सभी सदस्य इसमें मौजूद रहेंगे. विंडसर के डीन वहां सर्विस का संचालन करेंगे. ऑनलाइन मीडिया पोर्टल के मुताबिक, द इंपीरियल स्टेट क्राउन को ताबूत के ऊपर से हटा दिया जाएगा और अंतिम प्रेयर्स गाए जाने से पहले क्राउन ज्वैलर द्वारा एल्टर पर रखा जाएगा. इसके बाद ताबूत को रॉयल तिजोरी में रखा जाएगा.