अमरोहा में गेहूं के खेत में लगी भीषण आग, आठ एकड़ में लगी फसल जलकर राख

Fire On Wheat Farm

देश भर में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है. तपती धूप और बढ़ते तापमान का सीधा असर किसानों (Farmers) के खेतों पर पड़ रहा है. अगलगी की घटना की खबरे लगातार देश के कई राज्यों से आ रही है. दरअसल जहां एक तरफ महंगाई की मार ने लोगों के जीवन को प्रभावित कर रखा है तो वहीं दूसरी तरफ खेती-बारी कर फसल उगाने वाले किसानों को भीषण गर्मी के कारण कुदरत की मार झेलनी पड़ रही है. क्योंकि, भीषण गर्मी (Heat Wave) के चलते जगह-जगह गेहूं की फसल में आग लग जाने के कारण गेहूं की फसल (Wheat Crop on Fire) जलकर राख हो जा रही है. ऐसी ही घटना उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अमरोहा के मंडी धनोरा ब्लॉक के गांव शेरपुर के नजदीक की है जहां एक किसान के आठ बीघा खेत में खड़ी गेहूं की फसल चलकर राख हो गई

हादसे के बाद बाद किसान का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है. आठ एकड़ में लगी गेहूं की फसल में आग लग जाने के बाद अमरोहा जनपद के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और गेहूं के खेत में लगे आगे के कारणों के बारे में जानाकारी हासिल करने के बाद पीड़ित किसान को हरसंभव मदद देने का आश्वासन भी दिया. गौरतलब है कि अमरोहा जनपद में गेहूं की फसल में लगने वाली आग की यह पांचवीं घटना है जिसके बाद से किसानों में डर का माहौल बना है क्योंकि एक किसान खेत में मेहनत मजदूरी कर फसल उगाता है, जिसको बेचकर अपना जीवन यापन करता है लेकिन एक किसान की जब फसल जलकर राख हो जाती है तो उस किसान के जीवन यापन का सहारा ही खत्म हो जाता है.

अधिकारी कर रहे समय से गेहूं की कटाई करने की अपील

लगातार गेहूं के खेतों में हो रही अगलगी की घटनाओं को देखते हुए अमरोहा जनपद में आला अधिकारियों ने सभी किसानों को अपनी फसल समय से काटने की बात कही है क्योंकि अधिकारी भी जानते है एक किसान कितनी मेहनत कर पसीना बहा कर फसल उगाता है और यदि वही फसल जलकर राख हो जाती है तो उस किसान की मानो रीड की हड्डी ही टूट जाती है.

अब तक 150 बीघा गेहूं के खेत में लग चुकी है आग

क्योंकि, किसान के जीवन यापन का एकमात्र सहारा उसके मेहनत मजदूरी पसीने की कमाई उसके द्वारा उगाई गई फसल ही होती है जिसको बेचकर किसान अपना जीवन यापन करता है. यदि अमरोहा जनपद में खेत में खड़ी अलग-अलग स्थानों पर जलने वाली गेहूं की फसल की बात करें तो अब तक पांच जगह पर डेढ़ सौ बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई है जिसके बाद से किसान भी डर के माहौल में और जल्द से जल्द खेत में खड़ी अपनी गेहूं की फसल को काटने की कोशिश कर रहे हैं.

Similar Posts